-बाढ़ के चलते बनारस की मंडियों में केरल से नहीं आ रहे मसाले

-कारोबारी करने लगे माल डम्प, बढ़ रही दाम बढ़ने की संभावना

varanasi

ईस्टर्न यूपी समेत पूरे पूर्वाचल में मसाला पहुंचाने वाली बनारस की सबसे बड़ी मंडी गोला दीनानाथ में गरम मसाला की कमी शुरू हो गई है. बाढ़ में डूबे केरल से लौंग, इलायची, काली मिर्च, जायफल, दालचीनी, जावित्री, रामपत्रि आदि मसालों की आवक बंद हो गयी है. पिछले एक महीने से माल नहीं आने से व्यापारियों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंचने लगी है. उन्हें डर कि यह समस्या पूरे साल बनी रहती है क्योंकि बाढ़ ने केरल में मसालों की पैदावार को नष्ट कर दिया है. किराना कारोबारियों का मानना है कि अगर हालात में कोई सुधार नहीं हुआ तो आने वाले दिनों में बिना मसाला के ही सब्जी का निवाला खाना पड़ेगा.

जमकर हो रही जमाखोरी

मसालों की आवक ठप होते देख बड़े कारोबारियों ने स्टॉक डंप करना शुरू कर दिया है. पूर्वाचल सहित दूर-दराज भेजे जाने वाले माल अब बंद हो गए हैं. डिमांड के बावजूद माल नहीं भेज रहे, हालांकि अभी. छोटे व्यापारियों का जैसे-तैसे तो काम चल जा रहा है लेकिन गोला दीनानाथ में अधिकतर कारोबारियों ने बाहर भेजे जाने वाले माल को बंद कर दिया है.

मसाले का रेट बढ़ाने को आतुर

शादी-विवाह सहित त्योहारी सीजन को ध्यान में रखते हुए कारोबारियों ने अभी दाम नहीं बढ़ाए है. मगर इसमें कोई दो राय नहीं है कि जब मसालों की शार्टेज ज्यादा होगी तो गरम मसाला का रेट भी बढ़ना तय है. व्यापारी मान चुके है कि अब केरल से कुछ भी आने वाला नहीं है, लिहाजा मार्केट बनाए रखने के लिए दामों में उछाल भी होता है तो किसी को कोई एतराज नहीं होगा. रिटेल कारोबारी हाथों-हाथ बढ़े हुए दाम में भी गरम मसाला की खरीद करेंगे.

केरल से आने वाला आइटम

-दालचीनी, जायफल, छोटी-बड़ी इलायची, लौंग, काली मिर्च, जावित्री, रामपत्री आदि आइटम्स की आवक होती है

-ईस्टर्न यूपी से लगायत पूर्वाचल भर में भेजा जाता है गोला दीनानाथ मंडी से माल

मसाले का रेट

आइटम रेट

छोटी इलायची 1200-1500

जायफल 600-700

जावीत्रि 1300-1500

काली मिर्च 400-500

लौंग 600-700

(नोट: सभी आइटम का रेट प्रतिकिलो में दर्ज है)

केरल की बाढ़ का किराना कारोबार पर असर पड़ रहा है. गरम मसाले का अधिकतर आइटम केरल से ही आता है. सब कुछ वहां बह गया है. आने वाले दिनों में मसालों की जबरदस्त कमी होगी.

सीताराम केशरी, अध्यक्ष

काशी किराना व्यापार मंडल

गरम मसाले की आवक बिल्कुल ठप है. आने वाले दिनों में गरम मसाला के आइटम नहीं मिलने की संभावनाएं तेज हो गई है. पूर्वाचल की सबसे बड़ी मंडी गोला दीनानाथ में मसाले का अकाल पड़ने जा रहा है.

विनोद कुमार भूतड़ा, उपाध्यक्ष

काशी किराना व्यापार मंडल