-- रेवेन्यू कलेक्शन में यूपी में केस्को पहुंचा पांचवे स्थान पर, लापरवाहों पर गिरेगी गाज

-यूपीपीसीएल की निगाहें टेढ़ी, दोषियों पर गाज गिरना तय, 10 एक्सईएन से जवाब- तलब

kanpur@inext.co.in

KANPUR: हर महीने लगभग चार लाख लोगों के इलेक्ट्रिसिटी बिल जमा करने के कारण यूपी में टॉप पर चल रहा केस्को करंट फाइनेंशियल ईयर में लगातार पिछड़ता जा रहा है. जुलाई में बिल जमा करने वालों की संख्या में कमी और नए कनेक्शन जारी न कर पाने जैसे कारणों से केस्को पांचवे स्थान पर पहुंच गया है. इसको लेकर यूपीपीसीएल ऑफिसर्स ने नाराजगी जताते हुए जिम्मेदार अफसरों और कर्मचारियों पर एक्शन की भी तैयारी कर ली है. केस्को ने रेवेन्यू वसूली में लापरवाही पर क्0 एक्सईएन से स्पष्टीकरण मांगा है. साथ ही उनसे दोषी ऑफिसर, इम्प्लाइज के नाम भी मांगे गए हैं.

इंडस्ट्रियल एरिया में रह गया पीछे

नॉर्मली इंडस्ट्रियल एरिया वाला दादा नगर डिवीजन इलेक्ट्रिसिटी बिल वसूली में टॉप रहता था. इंडस्ट्रियलिस्ट कनेक्शन कटने से बचने के लिए टाइम से बिल जमा करते थे. लेकिन करंट फाइनेंशियल ईयर में दादा नगर डिवीजन टारगेट से म्ब्.भ्ब् करोड़ पीछे रहा है. यह धनराशि रेवेन्यू में पीछे रहने वाले दस डिवीजन में सबसे अधिक धनराशि है. हालांकि रेवेन्यू वसूली में सबसे ज्यादा पीछे कोपरगंज आलूमंडी डिवीजन रहा. जुलाई महीने तक के टारगेट में ये डिवीजन फ्8 परसेंट से ज्यादा पीछे रहा. नॉर्मली बिल कलेक्शन में टॉपर को कड़ी टक्कर देना वाला गुमटी डिवीजन भी जुलाई तक टारगेट से क्7 परसेंट पीछे रहा. केस्को ऑफिसर विवेक अग्रवाल ने बताया टारगेट से पीछे रहने वाले क्0 एक्सईएन से स्पष्टीकरण मांगा गया है. जवाब मिलने के बाद दोषी ऑफिसर, इम्प्लाइज के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

.........

डिवीजन-- टारगेट-- टारगेट से पीछे

कोपरगंज आलूमंडी- ख्क्भ्8 लाख-- फ्8.फ्ख् परसेंट

बिजलीघर--- फ्8ब्म् लाख--फ्ख्.9ब् परसेंट

रतनपुर--- ब्ख्00 लाख-- ख्9.ख्फ् परसेंट

दादा नगर-- ख्फ्70क् लाख-ख्7.ख्फ् परसेंट

हैरिसगंज-- भ्भ्ख्7 लाख-ख्म्.फ्7 परसेंट

जरीबचौकी-- फ्ख्क्9 लाख-क्9.7ब् परसेंट

किदवई नगर-- ख्88भ् लाख--क्9.09 परसेंट

देहली सुजानपुर--फ्077 लाख--क्7.भ्8 परसेंट

गुमटी-- फ्9ख्ब् लाख- क्7.फ्7 परसेंट

विकास नगर--ख्ब्0म् लाख-- क्7.ख्7 परसेंट

........

........