सिविल लाइंस स्थित एक धार्मिक स्थल से 10 दिन पहले हुई गायब

BAREILLY: सिविल लाइंस स्थित एक धार्मिक स्थल में झाड़ फूंक के दौरान एक तांत्रिक नाबालिग किशोरी का अपहरण कर फरार हो गया है. कई दिनों की तलाश के बाद पिता ने कोतवाली में तहरीर दी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. एक बार फिर से फ्राइडे को पिता कोतवाली पहुंचा और तहरीर दी. मामले की जांच चौकी चौराहा चौकी इंचार्ज प्रीति पवार को दी गई है.

मां और पिता को बहाने से भेजा

बिथरी चैनपुर निवासी अधेड़ ने बताया कि उसकी पत्नी की अक्सर तबीयत खराब रहती थी. दवा से फायदा नहीं हुआ तो परिजनों के कहने पर वह ठिरिया निजावत खां निवासी तांत्रिक के घर गया. तीन महीने पहले तांत्रिक घर आया और पत्नी को देखकर उस पर ऊपरी साया होने की बात कही. इस दौरान वह झाड़ फूंक करता रहा. 20 अगस्त को तांत्रिक दो लोगों के साथ घर आया और फिर कहा कि उसकी पत्नी पर साया है. वह उसकी नाबालिग बेटी को लेकर धार्मिक स्थल पर चले तो मां पर जो साया है उसे बेटी के सहारे भगाया जा सकता है. आज ही यह काम करना है. जिसके बाद पीडि़त अधेड़ शाम को बेटी व पत्नी को लेकर सिविल लाइंस स्थित धार्मिक स्थल पर पहुंचे. जहां तांत्रिक दो साथियों के साथ मौजूद था. तांत्रिक ने उन्हें कुछ सामान लाने की पर्ची देकर बाजार भेजा और उनकी पत्नी को वहीं बैठाकर किशोरी को लेकर भाग निकला. पीडि़त सामान लेकर वापस लौटा तो तांत्रिक समेत किशोरी को गायब देखा. इसके बाद वह तांत्रिक के घर गया तो वहां भी ताला बंद मिला.