-बारादरी पुलिस ने 10 दिन बाद पश्चिम बंगाल से किशोरी को किया रिकवर

BAREILLY: बारादरी थाना में किशोरी का अपहरण कर उसका धर्म परिवर्तन कराया गया और फिर उससे निकाह किया गया. 10 दिन से अपहृत किशोरी को पुलिस ने पश्चिम बंगाल के हुगली से रिकवर कर लिया है. पुलिस आरोपी को पश्चिम बंगाल से बरेली लेकर आ गई है. पुलिस किशोरी का मेडिकल कराने के बाद कोर्ट में बयान कराएगी. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

29 अगस्त को हुआ अपहरण

बारादरी निवासी शख्स की बेटी 29 अगस्त को बाजार गई लेकिन उसके बाद उसका कोई सुराग नहीं लगा. परिजनों को तलाशने पर पता चला कि मोहल्ले में ही एक सर्राफ के घर काम करने वाला जाहिद पुत्र अख्तर हुसैन उसे लेकर जाता दिखा है. पीडि़त परिवार की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया. पुलिस ने जब उसके घर का पता किया तो पता चला कि वह पश्चिम बंगला के हुगली जिले के थाना मदेशर के मोहल्ला काली मठ अंगुश का रहने वाला है. तीन दिन पहले पुलिस को भनक लगी कि जाहिद के घर एक युवती पत्नी बनकर रह रही है. जिसके बाद दारोगा रविंद्र सिंह अपनी टीम के साथ पहले कोलकाता फिर वहां से हुगली पहुंचे. वहां से मदद मांगी तो उन्हें थाना मंदेसर से फोर्स मुहैया कराई गई.

आरोपी के घरवालों ने किया विरोध

पुलिस ने दबिश दी तो पता चला कि यहां कोई दूसरे समुदाय की युवती नहीं है. बल्कि जाहिद ने रुखसार बेगम से शादी की है. वह उसकी पत्नी है. पुलिस ने पूछताछ की तो पीडि़ता ने बताया कि उसका धर्म परिवर्तन कराकर उसका नाम बदला गया. जिसके बाद पुलिस ने जब युवती को कब्जे में लिया तो आरोपित के परिजनों ने विरोध शुरू कर दिया. पुलिस ने हुगली पुलिस की मदद से पीडि़ता को कब्जे में लिया और आरोपित को गिरफ्तार कर बरेली लेकर आई.