- प्लेटफॉर्म नम्बर-2 पर मां के साथ सोने के दौरान गायब हो गई बच्ची

- जीआरपी ने चलाया सर्च अभियान, काफी देर बाद प्लेटफार्म नंबर दो पर मिली

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : बरेली जंक्शन, रात को करीब 10 बजे होंगे. गंतव्य स्थान जाने के लिए यात्रियों और उन्हें छोड़ने वालों की अच्छी-खासी भीड़ थी. इसी बीच पिंकी नाम की महिला अपनी 1 वर्षीय मासूम बेटी लक्ष्मी के साथ जंक्शन पर पहुंचती है. इंक्वॉयरी काउंटर पर जाकर अम्बाला कैंट जाने वाली ट्रेन के बारे में पता करती है. जवाब मिलता है कि अभी कोई ट्रेन नहीं हैं. लिहाजा वह ट्रेन के इंतजार में प्लेटफॉर्म नम्बर-2 पर जाकर चादर बिछा कर बेटी के साथ सो जाती है. कब गहरी नींद आ जाती है, पता ही नहीं चलता. इसी दौरान किसी ने मासूम को उठा लिया.

सुबह आंख खुली तो बेटी गायब

वेडनसडे सुबह 6 बजे जब पिंकी की आंख खुली तो पास में बेटी को न देख सन्न रह गई. इधर-उधर काफी तलाश किया लेकिन बेटी नहीं मिली. जिसके बाद पिंकी चीख-चीख कर रोने लगी. उसे रोते-बिलखते हुए देख जीआरपी पहुंची. उसने आपबीती जीआरपी इंस्पेक्टर विजय कुमार को बताई. पिंकी ने बताया कि वह पीलीभीत से अम्बाला कैंट जाने के लिए जंक्शन पर आई थी. ट्रेन का इंतजार करते-करते नींद आ गई. बेटी भी सो गई थी. पता नहीं कौन बेटी को उठा ले गया. काफी खोजबीन के बाद भी नहीं मिल रही है.

जीआरपी ने जारी किया अलर्ट

जंक्शन से मासूम के गुम होने की बात पर जीआरपी के भी कान खड़े हो गए. जीआरपी इंस्पेक्टर विजय कुमार ने तुरंत सभी एसआई और कॉन्स्टेबल के मोबाइल पर अलर्ट जारी कर दिया. जीआरपी ने प्लेटफॉर्म, लगेज, वेटिंग हॉल, टिकट रिजर्वेशन हॉल व सर्कुलेटिंग एरिया तमाम जगहों पर सर्च अभियान चलाया. काफी देर बाद प्लेटफॉर्म नम्बर-1 पर एक वर्षीय लक्ष्मी मिली. जो कि दो बच्चों के साथ खेल रही थी. जिनकी उम्र 12-13 वर्ष रही होगी. उन्होंने बताया कि लक्ष्मी उन्हें प्लेटफॉर्म पर ही लावारिस हालत में मिली. जिसे उन्होंने उठा कर वह उसके साथ खेलने लगे थे.

काफी प्रयास के बाद मिली मासूम

बेटी के मिलने पर पिंकी के खुशी का ठिकाना नहीं रहा. उसने जीआरपी का शुक्रिया अदा किया. जीआरपी ने पिंकी और उसकी बेटी को खाने-पीने का सामान दिया. उसके बाद दोनों चले गए. हालांकि, इस पूरे प्रकरण को जीआरपी गम्भीरता से ले रही है. जीआरपी का मानना है कि छोटी बच्ची जो सो रही थी वह इतनी दूर अकेले कैसे पहुंच सकती है. मामले को गंभीरता से लेते हुए जीआरपी इंस्पेक्टर विजय कुमार ने अलर्ट जारी कर दिया है. उन्होंने टीम को निर्देश दिए है कि संदिग्ध पर नजर रखे. शक होने पर उसे पकड़े पूछताछ के बाद ही जाने दें.

पीलीभीत की पिंकी अपनी बेटी के साथ जंक्शन पर आई थी. जिसे अम्बाला कैंट जाना था. रात में उसकी बेटी को किसी ने उठा लिया था. सुबह उसकी शिकायत पर सर्च अभियान चलाया गया. काफी प्रयास के बाद बेटी मिली. मासूम को उसकी मां पिंकी के सुपुर्द कर दिया गया.

विजय कुमार, इंस्पेक्टर, जीआरपी