ट्रंप और किम का विवाद
दोनों नताओं के बीच गंदे शब्दों का इस्तेमाल पहली बार तब देखा गया जब किम ने साल 2017 में 19 सितंबर को ट्रंप पर व्यक्तिगत जुबानी हमला करते हुए कहा था कि वे 'डोटार्ड' हैं। इस शब्द का मतलब लोग दुनियाभर के डिक्शनरी में खोजने लगे। बाद में पता चला कि इसका मतलब 'मानसिक और शारीरिक तौर पर कमजोर बूढ़ा' होता है। इसके बाद ट्रंप ने इस अपमान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक ट्वीट में लिखा कि 'किम जोंग उन मुझे बूढ़ा कह कर मेरा अपमान क्यों कर रहे हैं, जबकि मैंने कभी उन्हें नाटा और मोटा आदमी नहीं कहा। मैंने उनसे दोस्ती करने की बहुत कोशिश की, शायद भविष्य में कभी ऐसा हो सकेगा।'
कैसी होगी डोनाल्‍ड ट्रंप व किम जोंग उन की मुलाकात,जो एक दूसरे के लिए करते आए हैं ऐसे शब्‍दों का इस्‍तेमाल
इसलिए किम ने कही थी ऐसी बात
बता दें कि किम ने ट्रंप के लिए इस तरह के गंदे शब्द का इस्तेमाल इसलिए किया था, क्योंकि ट्रंप ने बीते साल सितंबर में संयुक्त राष्ट्र में उत्तर कोरिया को पूरी तरह से नष्ट करने की चेतावनी दी थी। किम के व्यक्तिगत हमले और ट्रंप की प्रतिक्रिया के बाद उत्तर कोरियाई मीडिया ने भी ट्रंप के लिए गंदे शब्दों का प्रयोग किया। बता दें कि वहां की मीडिया ने ट्रंप के लिए 'घातक कुकुरमुत्ता', 'कीड़ा', 'गैंगस्टर', 'ठग', 'मानसिक और शारीरिक तौर पर कमजोर बूढ़ा', 'बीमार कुत्ता' और 'पागल' जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया।
अफगानिस्तान में अमेरिकी ड्रोन हमला, तहरीक-ए-तालिबान के 20 आतंकी ढ़ेर

मीडिया में अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल
23 सितंबर को उत्तर कोरियाई सरकार की अखबार 'रोडोंग सिनमुन' में ट्रंप के बारे में लिखा गया था कि 'ट्रंप एक विकृत इंसान, एक राजनीतिक गुंडा, एक ठग, और एक बचकाना इंसान हैं।' इसके बाद 26 सितंबर को वहां की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए ने कहा कि 'ट्रंप किसानों के पाले एक कीड़े की तरह हैं, एक घातक कुकुरमुत्ता हैं और एक पागल बूढ़े व्यक्ति हैं।'

परमाणु बटन काम करता है
ट्रंप ने इस साल 3 जनवरी को एक ट्वीट कर लिखा था कि 'उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने कहा है कि उनकी डेस्क पर हमेशा एक न्यूक्लियर बटन रहता है, लेकिन उनके साम्राज्य का कोई उन्हें ये बताए कि मेरे पास भी एक परमाणु बटन है, जो उनके बटन से विशाल और ताकतवर है। साथ ही मेरा परमाणु बटन काम भी करता है।' इस बात के जवाब में रोडोंग सिनमुन ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप एक 'साइकोपैथ', 'पागल' और 'हारे हुए व्यक्ति' हैं, जिनकी टिप्पणियां ठीक वैसी हैं जैसे 'किसी बीमार कुत्ते का भौंकना'।
जापान में ज्‍वालामुखी विस्‍फोट, हजारों मीटर आसमान में धुंए और धूल के बादल से दर्जनों उड़ानें रद

परमाणु बटन का इस्तेमाल

16 जनवरी को रोडोंग सिनमुन ने कहा कि 'दुनिया को ट्रंप की मानसिक स्थिति की चिंता है, अमरीका में परमाणु बम का बटन एक पुराने और पागल व्यक्ति के हाथ में है'। खैर दोनों बड़े नेताओं के बीच मुलाकात मई में होनी है, अब देखने ये है कि दोनों की बातचीत सही शब्दों के साथ होती है या नहीं।
कैसी होगी डोनाल्‍ड ट्रंप व किम जोंग उन की मुलाकात,जो एक दूसरे के लिए करते आए हैं ऐसे शब्‍दों का इस्‍तेमाल

International News inextlive from World News Desk