खराब बल्लेबाजी से निराश हुए गांगुली
नई दिल्ली (पीटीआई)। इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज हारने के बाद भारतीय टीम की खराब बल्लेबाजी पर सवाल खड़े हो गए। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने टीम मैनेजमैंट पर नाराजगी जाहिर की है। गांगुली का कहना है कि, भारत के दो बेहतरीन बैट्समैन केएल राहुल और अजिंक्य रहाणे को बाहर क्यों बिठाया जा रहा जबकि दोनों इस समय टॉप फॉर्म में हैं। यही नहीं दादा ने इसी के साथ भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी की बैटिंग पर भी सवाल उठाए। गांगुली चाहते हैं कि धोनी अपनी बल्लेबाजी में थोड़ा बदलाव करें ताकि 2019 वर्ल्ड कप में भारत की दावेदारी और मजबूत हो सके।
धोनी को टीम में लाने वाले ने ही उनकी बल्लेबाजी पर उठाए सवाल,कह दी इतनी बड़ी बात
धोनी को सुधारना होगा अपना खेल
भारत की तरफ से 300 से ज्यादा वनडे खेल चुके पूर्व खिलाड़ी सौरव गांगुली ने कहा, 'धोनी पिछले तीन मैचों में फ्लॉप रहे हैं। अगर टीम मैनेजमेंट धोनी को अगले साल होने वाले वर्ल्ड कप में प्लेइंग इलेवन में रखता है तो माही को अपने खेल में थोड़ा बदलाव करना होगा। धोनी को अपनी पोजीशन खुद चुननी होगी क्योंकि जिस नंबर पर आकर वह बल्लेबाजी कर रहे उन्हें थोड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है। अगर 25 ओवर का खेल बाकी है और माही को पारी बनानी है तो अब उन्हें दिक्कत महसूस हो रही।' हालांकि दादा को पूर्व कप्तान धोनी की काबिलियत पर भरोसा है। उन्होंने आगे कहा, 'इसमें कोई दोराय नहीं कि धोनी भारत के एक महान खिलाड़ी हैं। मगर इस साल उन्हें कुछ नया करना होगा।'
धोनी को टीम में लाने वाले ने ही उनकी बल्लेबाजी पर उठाए सवाल,कह दी इतनी बड़ी बात
राहुल को मिलना चाहिए मौका
बाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज रहे गांगुली ने भारत की हार का जिम्मेदार मध्यक्रम की कमजोरी को माना है। गांगुली ने कहा, 'इस समय भारतीय टीम टॉप ऑर्डर बल्लेबाज पर ज्यादा निर्भर है। जब कभी ये बल्लेबाज रन नहीं बना पाते तो भारतीय टीम संकट में आ जाती। यह एक बड़ा मसला है, खासतौर से इंग्लैंड जैसी पिचों पर।' गांगुली ने केएल राहुल को टीम में न लेने पर नाराजगी जताई। उनका कहना है कि युवा बल्लेबाज केएल राहुल को मौका देना चाहिए। आंखे बंद करने पर भी मैं राहुल को नंबर 4 पर देखता हूं। आप उसके पास जाइए, और कहिए हम आपको 15 मैच देते हैं, जाइए रन बनाइए। गांगुली ने राहुल की तारीफ करते हुए कहा, वह इस समय जबरदस्त फॉर्म में हैं मैनचेस्टर में शानदार शतक लगाने के बावजूद उन्हें अगले मैच में ड्रॉप कर दिया गया। हमें ध्यान रखना चाहिए कि इस तरह के खिलाड़ी आसानी से नहीं मिलते।
धोनी को टीम में लाने वाले ने ही उनकी बल्लेबाजी पर उठाए सवाल,कह दी इतनी बड़ी बात


टी-20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा औसत से रन बना रहे केएल राहुल, पाकिस्तान के बाबर को भी पीछे छोड़ा

इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा वनडे खेले हैं इस खिलाड़ी ने, औसत सचिन से भी ज्यादा

Cricket News inextlive from Cricket News Desk