features@inext.co.in
KANPUR: बालकनी घर के ऐसे स्थान में हो, जहां से सारे घर में या आपके शयन कक्ष में धूप,रौशनी और हवा पर्याप्त मात्रा में आए।

-बालकनी घर की उत्तर या पूर्व दिशा की तरफ हो तो अच्छा है। यहां की सकारात्मक वाइब्स घर के लिए अच्छी होती हैं।

-उत्तर से पूर्व की तरफ होना भी बेहतर है क्योंकि इस तरफ बालकनी होने से पूरी तरह घर में और यदि शयन कक्ष इस तरफ है तो वहां भी रौशनी आती है। इसके अपने कई तरह के फायदे हैं। यहां बालकनी होना स्वास्थ्य की दृष्टि से भी अच्छा है।

-बालकनी यदि घर के और किसी स्थान में हो तो ठीक है पर यदि उपरोक्त स्थान में हो तो अच्छा है। साफ-सफाई का ध्यान जरूर रखें।

-यहां तुलसी जी का होना भी घर के लिए अच्छा होता है।

-यह एक ऐसा स्थान है, जहां घरवाले अपना खुशनुमा समय बिताते हैं। ये तभी होगा, जब यहां की वाइब्स सकारात्मक होंगी।

-यहां की सकारात्मकता बढ़ाने के लिए हैंगिंग प्लांट्स या पवन घंटी भी लगा सकते हैं। यहां कोई पेंटिंग लगाने का मन हो तो यह ध्यान रखें कि किसी हिंसक भाव वाली पेंटिंग या पोस्टर न लगाएं।

वास्तु टिप्स: शांत और सकारात्मक होना चाहिए बेड रुम का वातावरण, इसके लिए करें ये काम


वास्तु टिप्स: इस दिशा की सकारात्मक तरंगों से मिलता है कर्म का फल, जानें कैसे बदलती है जीवन की दशा

-घर की बालकनी में किसी भी तरह का अव्यवस्थित सामान नहीं होना चाहिए। यदि हो, तो उसे साफ और व्यवस्थित करें।

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk