कानपुर। हाल ही में अनिल कपूर की 45वीं वेडिंग एनीवर्सरी थी। इस मौके पर अनिल कपूर ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट कर अपनी लव स्टोरी फैंस से साझा की। बहरहाल आज इतना स्टारडम पाने के पीछे अनिल कपूर की मेहनत की है। 1979 से करीब एक साल तक अनिल कपूर ने बतौर बैकग्राउंड डांसर काम किया।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल कपूर ने हिंदी और तेलुगू की भाषा में फिल्में की हैं। अनिल की पहली फिल्म 'वो सात दिन' 1983 में रिलीज हुई। अनिल ने अपनी एक्टिंग की पढा़ई खत्म करने के बाद मिड डे को दिए अपने करियर के शुरुआती दिनों के इंटरव्यू में बताया, 'मैंने अपना एक्टिंग का कोर्स पूरा कर लिया है पर मुझे अब तक कोई काम नहीं मिला।'
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- कुछ समय बाद एक शो का आयोजन हुआ जिसमें हेमंत कुमार, नूतन, पद्मिनी कपिला और जरीना वाहिब जी को एक बैकग्राउंड डांसर की जरुरत थी। उस वक्त अनिल ने झट से इस बैकग्राउंड डांसर के ऑफर को हां कह दिया और एक शो के करीब 15 पाउंड्स कमाते थे।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- हाल ही में जून के महीने में अनिल कपूर ने इस साल इंडस्ट्री में अपने 35 साल का सफर पूरा कर लिया है। अनिल खुद को सिनेमा का 'आज्ञाकारी छात्र' मानते हैं। उनका मानना है कि इस क्षेत्र में जितना सीखो उतना कम है और वो अभी भी सीख ही रहे हैं।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल की तीन बडी़ च्वाइसेज उनकी सक्सेज के लिए जिम्मेदार हैं। तीन दशकों बाद भी अनिल का स्टारडम कम नहीं हुआ इसकी वजह उनकी जिंदगी में तीन महत्वपूर्ण चीजें हैं। ये चीजें हैं लक, डाइरेक्टर्स और फैमिली। लक की वजह से अनिल को फिल्में मिलीं, अच्छे डाइरेक्टर्स का उनकी लाइफ में आना और परिवार को सपोर्ट।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल कपूर को एक्टिंग करियर में पहला ब्रेक महज 14 साल की उम्र में मिला था। अनिल ने फिल्म 'तू पायल मैं गीत' में शशि कपूर के बचपन का किरदार निभाया था। फिर अनिल कपूर ने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया(एफटीआईआई) में एडमिशन लिया पर वो पहले ही साल फेल हो गए। अनिल फेल होने पर बहुत रोए थे।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल कपूर को कहीं काम नहीं मिल रहा था। फिर अनिल ने फिल्मों के लिए कई जगह हाथ पैर मारे तब उन्हें 'वामसा वरुश्कम' सहित साउथ की कई फिल्मों में अभिनय करने का मौका मिला। इसके बाद 90 के दशक में अनिल ने 'मशाल', 'योद्धा', 'मेरी जंग', 'कर्मा', 'चमेली की शादी', 'मिस्टर इंडिया', 'राम-लखन' और 'लाडला' जैसी कई हिट फिल्में की।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- इन हिट फिल्मों के बाद डाइरेक्टर्स अनिल कपूर पर अपना पैसा लगाना चाहते थे। अनिल को सिर्फ इन फिल्मों से ही नहीं बल्कि कई पॉपुलर गानों से भी पहचान मिली जैसे की ओ जी आ जी, मिस्टर इंडिया और झक्कास। इन सबने अनिल को ऑडियंस के दिलों तक पहुंचाने में मदद की है।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल की फैन फालोइंग इंडिया के अलावा विदेश में भी बढी़ जब वो हॉलीवुड डाइरेक्टर की भारतीय फिल्म 'सल्मडॉग मिलेनियर' में नजर आए थे। मालूम हो कि डेनियल की इस फिल्म को आठ कैटेगरीज में ऑस्कर अवॉर्ड से नवाजा गया था।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में
- अनिल कपूर ने बाद में एक अमेरिकन टीवी सीरीज में भी अभिनय किया जिसे इंडिया में खूब सराहा गया। अनिल को ये शो इतना पसंद आया था कि उन्होंने इस शो के राइट्स खरीद लिए और उसका हिंदी रीमेक बनाना चाहते थे। फिलहाल अनिल अपनी अपकमिंग फिल्म 'फन्ने खान' के प्रोमोशन में वयस्त हैं। फिल्म में इनके साथ ऐश्वर्या राय और राज कुमार राव भी अभिनय करते दिखेंगे।
अनिल कपूर कुछ यूं बने असल जिंदगी के फन्ने खां,जानें कैसे इन 10 प्वाइंट्स में

तो 'फन्ने खां' अनिल कपूर की लव स्टोरी इस तरह हुई थी शुरू, पत्नी सुनीता अकेली ही चली गई थीं हनीमून पर


तस्वीरें : अनिल कपूर ने दामाद आनंद आहुजा का जन्मदिन ऐसे किया सेलीब्रेट, सोनम ने दिया ये तोहफा

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk