सेहत से जुड़ा है कारण
वैज्ञानिकों और चिकित्‍सकों का मानना है कि नए फुटवियर खरीदने का सर्वोत्‍तम समय है देर शाम या जब रात उतरने लगे। इसकी वजह आपकी दिनचर्या और सेहत से जुड़ी हुई है। ये सावधानी तब तो और भी जरूरी है जब, विशेष रूप से आपके परिवार में डायबटीज का इतिहास है या आप खुद डायबटीज के शिकार हैं।

शरीर में पानी की मात्रा का पड़ता है प्रभाव
चिकित्‍सकों का मनना है कि दिन भर कुछ ना कुछ खाने के साथ आपके शरीर में शक्‍कर और नमक भरपूर मात्रा में जाता है। जिससे शरीर में पानी की मात्रा बढ़ती है। ये पानी शरीर के हर हिस्‍से में जाता है। खासतौर पर हाथ और पैरों में जमा होता है। जिसके चलते पैरों का साइज बदलने की संभावना बढ़ जाती है।

सुबह नहीं शाम को होता है फुटवियर खरीदने का सही समय

कैसे करता है काम
इस बात को ऐसे समझें सुबह आपके शरीर में पानी की मात्रा कम होती है। ऐसे में जब आप फुटवियर खरीदते हैं तो हो सकता है कि आपको सात नंबर का जूता फिट लगे, लेकिन शाम तक पानी की मात्रा बढ़ने और उसके पांव में जमा होने के बाद पैर फूल जाता है और तब आपका साइज आठ नंबर हो सकता है। तो जो जूता सुबह फिट होता है वो दिन चढ़ने के साथ साथ कसने लगता है जिससे पैरों में दर्द की शिकायत बढ़ जाती है।

सुबह नहीं शाम को होता है फुटवियर खरीदने का सही समय

डायबिटीज के पेशेंट के लिए ज्‍यादा नुकसान
डाक्‍टरों का कहना है कि ये परेशानी डायबटीज के मरीजों के साथ ज्‍यादा होती है। पैरों में पानी जमा होने बाद वो सूजने लगते हैं और वो तकलीफ में आ जाते हैं। ऐसे मरीजों को तो विशेष रूप से सावधानी बरतनी चाहिए।

Health News inextlive from Health Desk

inextlive from News Desk