- शहर के सभी मंदिरों में छठे दिन को धूमधाम से मनाया गया

- महिलाओं ने गीतों को गाकर कार्यक्रम को बनाया और भी सुंदर

BAREILLY:

राजेंद्र नगर स्थित श्री बांके बिहारी मंदिर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी के छठे दिन कन्हैया जी की छठी का उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया गया. उत्सव में बांके बिहारी महिला मंडल की ओर से भजनों एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ. जन्माष्टमी की तरह ही सैटरडे को भी छोटे-छोटे बच्चे कन्हैया एवं ग्वाल बाल रूप में सजकर मंदिर में आए. कार्यक्रम में कान्हा, ग्वाल बाल एवं यशोदा मैया की लीलाओं का मंचन भी किया गया.

महिलाओं ने गाए भजन

कार्यक्रम को और सुंदर बनाने के लिए कार्यक्रम मे मौजूद सभी महिलाओं ने भजन भी गाए, जिसमें नीलम साहनी ने 'छम छम गोपियों ने लगाई आए नंदलाल सबको बधाई' भजन गाया तो शीला रस्तोगी ने 'अभी तो मेरा छोटा सा कुंवर कन्हैया' गाया. जिसके बाद आशा ने 'कौन किस ने मार दियो री टोना मेरा मचले श्याम सलोना' भजन गाकर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए. कार्यक्रम का समापन बाल रूप में सजे बच्चों को पुरस्कृत कर एवं प्रसाद देकर किया गया.

कृष्ण अवतार से कराया अवगत

कार्यक्रम के बाद शाम को श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ कार्यक्रम शुभारंभ हुआ. जिसमें वृंदावन से पधारे स्वामी रजनीशानंद महाराज ने भक्तों को कृष्ण अवतार से अवगत कराया. उन्होंने कहा कि मनुष्य को विपरीत परिस्थितियों से भागना नहीं चाहिए बल्कि उनका सामना करना चाहिए. उन्होंने कृष्ण अवतार के परिप्रेक्ष्य में कहा कि कृष्ण जी का तो जन्म से लेकर पूरा जीवन ही विपरीत परिस्थितियों से भरा रहा, पर वह कभी विचलित नहीं हुए और उन्होंने परिस्थितियों का सामना मुस्कान के साथ किया. कार्यक्रम में शीला रस्तोगी, पम्मी सहानी, नीलम साहनी, कमल भाटिया, चन्द्रा तनेजा, ममता तनेजा, कुंवर बहादुर, राजेंद्र कुमार यादव, पियू ठाकुर, भजन सिंह, सुहानी सिंह आदि उपस्थित रहीं.