- भीषण गर्मी में कंज्यूमर्स की बढ़ी परेशानी, पानी के लिए तरसे

- बिजली विभाग के अधिकारी नहीं रखते कंज्यूमर्स की सुविधा का ख्याल

GORAKHPUR: अगर आप बिजली निगम के दफ्तर जा रहे हैं तो अपने साथ इस भीषण गर्मी में पानी लेना न भूलें। ऐसा नहीं करते हैं तो बदहाल बिजली दफ्तर में जाकर अपना गला तर करने के लिए जेब ढीली करने को तैयार रहें। बिजली दफ्तर की हालत ये है कि यहां पानी से लगाए बैठने के लिए बेंच और फैन तक की व्यवस्था नहीं है। जबकि किसी भी काम के लिए कंज्यूमर को घंटों लाइन में वेट करना पड़ता है। इसके बाद भी जिम्मेदार कंज्यूमर की सुविधा का जरा भी ध्यान नहीं देते हैं।

खराब पंखे बढ़ा रहे शोभा

भीषण धूप में लू के थपेड़ों के बीच कंज्यूमर बिजली बिल जमा करने को मजबूर हैं। इसी बात की पड़ताल करने के लिए सोमवार को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की टीम ने सिटी स्थित सभी बिजली ऑफिसों का जायजा लिया। सबसे पहले टीम टाउन हाल बिजली ऑफिस में पहुंची तो वहां न तो पानी की व्यवस्था थी न ही गर्मी से निजात दिलाने के लिए पंखा ही लगा था। यही हाल मोहद्दीपुर बिजली ऑफिस में भी देखने को मिला। इसी तरह बक्शीपुर बिजली ऑफिस में बिल जमा करने के लिए कंज्यूमर्स कतार में लगे हुए थे। लेकिन वहां पर भी हवा के लिए एक भी फैन नहीं दिखा। वहां खराब पंखे केवल शोभा बढ़ा रहे थे। कंज्यूमर्स का कहना है कि सुविधा के नाम पर बिजली निगम पैसा तो लेता है लेकिन ऐसा कोई इंतजाम नहीं दिखता है।

केस 1

अलीनगर स्थित थवईपुल के रहने वाले मोहम्मद अली बक्शीपुर बिजली ऑफिस अपने घर का बिजली बिल जमा करने पहुंचे। लाइन में लगकर काउंटर के अंदर बैठे कर्मचारी को बिल दिया। एसी कमरे में बैठा कर्मचारी आराम से बिल बनाता रहा और इधर मोहम्मद अली पसीना पोंछते रहे। इसके बाद वह पानी की तलाश करने लगे। कहीं पीने का पानी नहीं मिला तो अफसरों को कोसते हुए चले गए।

केस 2

बहरामपुर निवासी संतोष साहनी बक्शीपुर खंड कार्यालय में सीलन भरे हाल में बिजली का बिल जमा करते वक्त व्यवस्था को कोस रहे थे। अफसर और यहां के कई कर्मचारी एसी कमरों में बैठ कर आराम से काम निपटा रहे थे। जबकि बिल काउंटर के बाहर पंखे तक नहीं चल रहे थे।

अफसरों को सिर्फ अपनी चिंता

शहर के बिजली निगम के अफसरों को सिर्फ अपनी सुविधा की चिंता है। अफसरों के कमरे की एसी उनके आने से पहले इसलिए चला दी जाती है कि साहब कुर्सी पर बैठें तो पसीना पोंछने की नौबत न आए। लेकिन कंज्यूमर्स को सुविधा के नाम पर अफसर कुछ भी नहीं कह रहे हैं।

कोट

गर्मी काफी पड़ रही है लेकिन बिजली ऑफिस में अफसरों की लापरवाही की वजह से कंज्यूमर्स को कोई सुविधा नहीं मिल पा रही है। यहां न तो पीने के पानी का वॉटर कूलर लगा है न हवा के लिए पंखे का इंतजाम। इसके चलते कंज्यूमर को दिक्कत होती है।

जगन्नाथ बर्नवाल, अलीनगर

बिजली का बिल जमा करना हो या बिल सुधार हो। इसके लिए अफसरों के ऑफिस का चक्कर लगाना पड़ता है। कंज्यूमर्स के बैठने और पेयजल की भी व्यवस्था नहीं है। इसकी वजह से सभी को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

अन्नू गुप्ता, नरसिंहपुर

बिजली निगम द्वारा कंज्यूमर्स को बेहतर सुविधा मुहैया करने का दावा करते हैं लेकिन फिर भी स्थिति जस की तस बनी हुई है। गर्मी में यहां पीने का पानी, कंज्यूमर्स के बैठने और पंखों की व्यवस्था नहीं है। जहां है भी वह शो पीस बने हुए हैं।

सफी हसल, इलाहीबाग

वर्जन

कंज्यूमर्स को हवा, पानी और बैठने की जगह मिलनी चाहिए। सभी अधीक्षण अभियंताओं और अधिशासी अभियंताओं को निर्देश दिए गए हैं कि वह व्यवस्था ठीक कर लें।

- देवेंद्र सिंह, चीफ इंजीनियर