RANCHI: कोतवाली थाना में लेडी डॉन रिया सिन्हा के खिलाफ सनहा दर्ज कराना पीडि़ता प्रभा देवी के लिए मुसीबत बन गया. शुक्रवार को रिया सिन्हा अपने लोगों के साथ उसके घर पहुंची और जमकर पिटाई कर दी. इसके बाद प्रभा देवी का मोबाइल छीन लिया. रिया सिन्हा उसे पंडरा थाना जाने की बात कह रही थी, लेकिन प्रभा देवी का कहना था कि पुलिस बुलाएगी तब जाएगी. इस पर रिया सिन्हा ने जमीन मालकिन के सामने ही उसकी पिटाई कर दी और उसके नवजात को छीनने का भी प्रयास करने लगी. लेकिन, वह बच्चे के लिए जी जान से रिया सिन्हा से भिड़ गई और बच्चे को बचा लिया. पिटाई के बाद वह सीधे कोतवाली डीएसपी भोला प्रसाद सिंह के पास पहुंची और मामले की जानकारी दी. भोला प्रसाद सिंह ने तुरंत पंडरा थानेदार आनंद कुमार सिंह को डांट पिलाई और प्राथमिकी दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

सूद पर पैसे देने का मामला

जानकारी के अनुसार, नया टोली पंडरा में रहनेवाली महिला प्रभा देवी सुरक्षा की गुहार लगाने कोतवाली थाना पहुंची. पुलिस के समक्ष प्रभा देवी ने बताया कि नवंबर 2016 में उसने अपनी बेटी के इलाज के लिए 65 हजार रुपए लिए थे. इस मामले में उसने अभी तक आठ हजार रुपए लौटा दिए हैं. फिर, उसने एक दिन उसे घर बुलाया और कहा कि नौ लाख रुपए दो, वरना तुम जिस मकान में रह रही हो, उसे खाली करो. अन्यथा सूद का नौ लाख रुपए दे दो. पीडि़ता ने बताया कि जब उसने इसका विरोध किया तो रिया सिन्हा ने उसे चप्पलों से पीटा था.