-मुख्य न्यायाधीश ने दिलाई पद और गोपनीयता की शपथ

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्कन्ञ्जहृन्: लालजी टंडन ने गुरुवार को बिहार के 39वें राज्यपाल के रूप में अपना पदभार ग्रहण कर लिया. राजभवन के राजेंद्र मंडप में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में पटना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश मुकेश कुमार रसिक भाई शाह ने लालजी टंडन को राज्यपाल पद की शपथ दिलाई. इस अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी समेत राज्य कैबिनेट के मंत्री, विधायक और अधिकारी मौजूद थे.

बिहार के 39वें राज्यपाल हैं टंडन

टंडन बिहार के 39वें राज्यपाल हैं. बिहार के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक को जम्मू कश्मीर का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. लालजी टंडन मूल रूप से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रहने वाले हैं. बिहार के राज्यपाल बनने के पहले वह उत्तर प्रदेश सरकार में कई बार कैबिनेट मंत्री व विधायक रहे हैं. उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का उत्तराधिकारी माना जाता है. अटल बिहारी वाजपेयी के संसदीय सीट लखनऊ को छोडऩे के बाद पार्टी ने उन्हें चुनाव मैदान में उतारा था और वह 15वीं लोकसभा में निर्वाचित होकर 2009 में पहली बार संसद पहुंचे. 12 अप्रैल 1935 को लखनऊ में जन्मे 83 वर्षीय लालजी टंडन के परिवार में उनकी पत्‍‌नी कृष्णा टंडन व तीन पुत्र व दो नाती व पोते हैं. बड़े बेटे योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं.