-जमीन की धोखाधड़ी में कोर्ट ने बीजेपी नेता की मां के खिलाफ जारी किया था वारंट

-पुलिस से जमकर हुई नोकझोंक, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : जमीन की धोखाधड़ी के मामले में बीजेपी नेता ने अपनी मां की गिरफ्तारी के विरोध में इज्जतनगर थाना में जमकर हंगामा किया. बीजेपी नेता ने भीड़ के साथ पहुंचकर थाना घेर लिया और पुलिस से नोकझोंक की. मां को भीड़ का दबाव बनाकर छुड़ाने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. बीजेपी नेता की मां के खिलाफ कोर्ट ने वारंट जारी किया था. वहीं करगैना में धोखाधड़ी के मामले में महिला को गिरफ्तार न करने पर महिलाओं ने चौकी में हंगामा किया.

2 जून को दर्ज हुई थी एफआईआर

चक महमूद, बारादरी निवासी राजवीर सिंह ने 2 जून 2017 को शीला कश्यप निवासी आलोक नगर इज्जतनगर व प्रेमनगर के सुर्खा निवासी दाताराम व उसकी पत्नी मालती व एक अन्य पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया था. शीला कश्यप बीजेपी नेता मिंटू की मां हैं. इस मामले में शीला कोर्ट में पेश नहीं हो रही थीं, जिसके चलते कोर्ट ने वारंट जारी कर दिया था. फ्राइडे को इज्जतनगर पुलिस इसी वारंट में शीला कश्यप को पकड़कर थाना ले आयी. जैसे ही मिंटू को मां की गिरफ्तारी का पता चला तो वह कई समर्थकों के साथ इज्जतनगर थाने पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया. हंगामा बढ़ने पर इज्जतनगर एसएचओ थाने पहुंचे. एसएचओ से भी भीड़ ने नोकझोंक की तो पुलिस ने सख्त रुख इख्तियार कर लिया और कोर्ट के वारंट का हवाला देते हुए कागजी कार्रवाई पूरी कर शीला को जेल भेज दिया.

महिलाओं ने चौकी का किया घेराव

सुभाषनगर की करगैना चौकी में महिलाओं ने फ्राइडे को हंगामा किया. महिलाएं ममता सक्सेना नाम की महिला की गिरफ्तारी की मांग कर रही थीं. आरोप है कि ममता ने स्वंय सहायता समूह के नाम से लाखों रुपए की ठगी की थी. इसकी एफआईआर भी दर्ज थी लेकिन पुलिस ने गिरफ्तारी नहीं की, बल्कि उनके खिलाफ ही मारपीट की रिपोर्ट दर्ज करा दी.