इविवि के एक्स रजिस्ट्रार कर्नल हितेश लव ने सीओ को भेजा वीडियो

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के एक्स रजिस्ट्रार रिटायर्ड कर्नल हितेश लव ने विवि प्रशासन को करारा जवाब दिया है. उन्होंने कर्नलगंज थाने में वर्तमान रजिस्ट्रार प्रो. एचएस उपाध्याय की ओर से भेजी गई कम्पलेन और एफआईआर की गुहार पर (चीफ प्रॉक्टर द्वारा अग्रसारित) थानाध्यक्ष को पत्र लिखकर हकीकत से रूबरू कराया. कर्नल हितेश लव ने थानाध्यक्ष को लिखित दिया कि थर्सडे को विवि के सुरक्षा अधिकारी एपी सिंह और स्टेट मैनेजर राजीव मिश्रा उनके आवास पर कुछ अराजकतत्वों को लेकर पहुंचे थे. उन्होंने इसका वीडियो सीओ आलोक मिश्रा को भी भेजी है.

प्रताडि़त किया जा रहा है मुझे

पत्र में कर्नल ने कहा है कि रजिस्ट्रार प्रो. उपाध्याय ने उनके द्वारा उपयोग किए जा रहे जिस सरकारी वाहन के दुरूपयोग की बात कही है. इसका जवाब उन्होंने स्टेट मैनेजर को 11 जुलाई को भेज दी थी, पर कोई कार्रवाई तो दूर जवाब भी नहीं भेजा गया. कहा कि उन्हें अनर्गल आरोप लगाकर प्रताडि़त किया जा रहा है.

ट्रिब्यूनल में रखेंगे अपना पक्ष

कर्नल ने लिखा है कि सुरक्षा अधिकारी, स्टेट मैनेजर और उनके साथ पहुंचे अराजकत्वों ने जबरन गाड़ी को कब्जे में लेने की कोशिश की. मैने दस्तावेज प्रस्तुत करने पर ही गाड़ी ले जाने की बात कही तो वे धमकी देते हुए चले गए. रजिस्ट्रार ने थानाध्यक्ष को लिखा है कि वह प्रकरण का शान्तिपूर्ण समाधान चाहते हैं. क्योंकि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विवि द्वारा उनकी अनुचित बर्खास्तगी के विरुद्ध विवि के अनुरोध पर ही विवि द्वारा गठित किए जाने वाले ट्रिब्यूनल में अपना पक्ष रखने का मौका दिया है. उन्होंने इसके तत्काल गठन की मांग विवि कुलपति प्रो. आरएल हांगलू और रजिस्ट्रार प्रो. उपाध्याय से की है.