- दोस्त को सीड़ी बनाकर खिलाडि़यों तक बनाया रास्ता

- दोस्त ने बेटे को कई राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खिलाडि़यों से मिलवाया

आगरा. सट्टा किंग ऐसे ही करोड़ों के सट्टे की खाईबाड़ी नहीं रहा. उसके सम्पर्क राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाडि़यों तक हैं. पुलिस पूछताछ में उसने आईपीएल में चुने एक सिटी के एक खिलाड़ी का नाम बताया है. उसके दोस्त ने उसके बेटे को उससे मिलवाया था. इसी के बाद अन्य खिलाडि़यों से उसकी मुलाकात हुई.

शू कारोबारी है दोस्त

बोहरा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वेस्टर्न यूपी का एक खिलाड़ी मुबंई टीम में सिलेक्ट हुआ था. बोहरा की दोस्ती कमला नगर निवासी जूता कारोबारी से हैं. कारोबारी खिलाड़ी का कोच रह चुका है. दोस्त की जूते की दुकान है. बोहरा के दोस्त ने ही उसके बेटे वत्सल को खिलाड़ी से मिलवाया था. इसके बाद उसका बेटा कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाडि़यों से मिला.

दोस्त को बनाया सीड़ी

बोहरा ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाडि़यों के बीच पैठ बनाने के लिए दोस्त को सीड़ी बनाया. कोच ने पहले एक खिलाड़ी से मिलवाया बाद में अन्य प्लेयर से मुलाकात हुई. नोएडा में पकड़े जाने पर उसके बेटे की एक तस्वीर अफ्रीका के खिलाड़ी के साथ वायरल हुई थी. उसमें और भी खिलाड़ी थे.

आईपीएल टीम की भूमिका पर सवाल

जिस सिटी के खिलाड़ी से श्याम बोहरा का बेटा वत्सल मिला था. वह टीम में सिलेक्ट होने के बाद भी खेला नहीं था. आईपीएल के पिछले सीजन में टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा लेकिन इस बार आईपीएल में टीम का सफर लीग मुकाबलों से आगे नहीं बढ़ सका. टीम सुपर 8 में भी जगह नहीं बना सकी. ये खिलाड़ी उस टीम का हिस्सा था. इससे टीम की मैच से जुड़ी रणनीति को बाहर आने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.