कलक्ट्रेट में तालाबंदी करने वालों पर सख्त हुए कमिश्नर

-डीएम को पत्र भेजकर दिए कानूनी कार्रवाई करने के आदेश

मेरठ: कमिश्नर के खिलाफ गत 4 दिनों से कार्य बहिष्कार कर धरना दे रहे कलक्ट्रेट में कर्मियों को शुक्रवार कमिश्नर डॉ. प्रभात कुमार ने तगड़ा झटका दिया. कमिश्नर ने डीएम को पत्र जारी कर कलक्ट्रेट में तालाबंदी करने वाले कर्मियों पर एफआइआर दर्ज कराने और कार्य बहिष्कार करने वालों का वेतन काटने के आदेश दिए हैं.

धरना दे रहे कर्मचारी

गत दिनों कमिश्नर की छापेमारी के बाद मेरठ सदर तहसील में तैनात नायब नाजिर समेत 5 आउटसाइडर की गिरफ्तारी के विरोध में कलक्ट्रेट कर्मी पिछले 4 दिनों से कलक्ट्रेट परिसर में धरना दे रहे हैं. कर्मियों ने कार्य बहिष्कार करने के साथ कलक्ट्रेट परिसर के सभी कार्यालयों में तालाबंदी भी कर रखी है. शुक्रवार को कमिश्नर डॉ. प्रभात कुमार ने कलक्ट्रेट में तालाबंदी और कर्मियों द्वारा कार्य बहिष्कार पर कड़ा रूख अपनाते हुए डीएम को आदेश दिए हैं. डीएम समीर वर्मा को जारी पत्र में कमिश्नर ने कहा है कि सरकारी कार्यालय में ताले किसी भी हाल में न लगाने दिया जाए.

दिनभर नारेबाजी

कलक्ट्रेट परिसर में शुक्रवार को दिनभर कमिश्नर के पक्ष में कई संगठनों ने जिंदाबाद के नारे लगाए, वहीं कलक्ट्रेट के कर्मचारी मुर्दाबाद के नारे लगाते रहे. सुबह के समय भारतीय किसान यूनियन के सदस्य कलक्ट्रेट में पहुंचे और कमिश्नर के पक्ष में धरना देना शुरू कर दिया. इस बीच अजगर किसान मजदूर संगठन के लोग भी आयुक्त के पक्ष में कलक्ट्रेट पहुंचे और जमकर नारेबाजी की.

--------------

इस दौरान बाबा इलम सिंह, विनोद जिटौली, नरेश चौधरी, नवाब सिंह, संजय दौरालिया, वीरपाल, जितेंद्र, धर्मपाल, ओम प्रकाश, कर्मवीर आदि मौजूद रहे. उधर, दोपहर के समय ऑल इंडिया लॉयस यूनियन के सदस्य भी कमिश्नर से मिले और उनके द्वारा की गई कार्रवाई को सही बताते हुए समर्थन दिया. यूनियन के अध्यक्ष तौसीफ अली खान, प्रभात मलिक आदि शामिल रहे.

कर्मियों ने दी कमिश्नर को चुनौती

उत्तर प्रदेशीय मिनिस्ट्रीयल कलक्ट्रेट कर्मचारी संघ का धरना शुक्रवार को भी जारी रहा. धरना स्थल पर संगठन के जिलाध्यक्ष सुरेश चंद्र शर्मा ने कमिश्नर को चुनौती देते हुए कहा कि कई विभागों में अभी भी बाहरी लोगों से काम कराया जा रहा है. कमिश्नर ऐसे विभागों के खिलाफ भी कार्रवाई करके दिखाएं.

दिनभर भटकते रहे फरियादी

कलक्ट्रेट कर्मियों के कार्य बहिष्कार और तालाबंदी के कारण अपनी समस्या लेने पहुंचे आमजन को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. शुक्रवार को भी एडीएम सिटी, प्रशासन, सिटी मजिस्ट्रेट आदि तमाम अधिकारियों के कार्यालयों के मुख्य गेट पर ताला लटका रहा. पिछले तीन दिन से कलक्ट्रेट में तालाबंदी चल रही है. जिस कारण तमाम कामकाज ठप है. इस कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

---

कार्यालय से अनुपस्थिति रहने वाले और तालाबंदी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीएम को कहा गया है.

-डॉ. प्रभात कुमार, कमिश्नर

----------

कमिश्नर ने नियमों के विरूद्ध जाकर कार्रवाई की है, इस कारण कर्मचारी विरोध कर रहे हैं. मांग पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा.

-सुरेश चंद्र शर्मा, जिलाध्यक्ष, कलक्ट्रेट कर्मचारी यूनियन