-पटना डीएम कुमार रवि ने कहा, ड्यूटी में एक्सक्यूज करने की कोई जगह नहीं

PATNA : मेरे घर में बहुत जरूरी काम है, मेरा तबीयत ठीक नहीं है, मैं ड्यूटी में ट्रैवल करने में असमर्थ हूं आदि - कई बहाने बनाए जाते हैं चुनावी ड्यूटी से बचने के लिए। लेकिन ये बहानेबाजी इस बार नहीं चलेगी। पटना डीएम ने चुनावी ड्यूटी में शामिल सभी कर्मचारियों को स्पष्ट कर दिया है कि जो भी ड्यूटी में शामिल हैं उन्हें मिशन मोड में काम करना होगा। यदि वे बहानेबाजी करेंगे तो उस पर विचार नहीं किया जाएगा। चुनाव लोकतंत्र का महापर्व है और इसमें कोताही की कोई बात स्वीकार नहीं की जाएगी।

25 हजार कर्मी ड्यूटी में

इस बार पटना जिला में चुनावी ड्यूटी पर करीब 25 हजार कर्मी की तैनाती की जाएगी। पटना के डीएम कुमार रवि ने बताया कि स्कूल शिक्षकों समेत कई विभागों के कर्मचारियों को शामिल किया गया है। जिला प्रशासन चुनाव को सफल तरीके से कराने के लिए प्रतिबद्धता के साथ काम कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि जहां कहीं भी स्टाफ की समस्या होगी तो उसे तुरंत देखा जाएगा। जिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं पटना डीएम कुमार रवि ने बताया कि यदि कोई मामला ऐसा आता है जिसमें छुट्टी की मांग जांच के दौरान अतिआवश्यक पाया जाता है तो उसपर विचार किया जा सकता है। लेकिन सामान्य मामलों पर ड्यूटी को बहुत गंभीरता से लेना होगा।