patna@inext.co.in

PATNA : लोकसभा चुनाव में सुरक्षा का बड़ा नेटवर्क तैयार किया जा रहा है. पुलिस और खुफिया विंग्स के साथ-साथ यूथ का ऐसा नेटवर्क तैयार किया जा रहा है जो शांति पूर्ण चुनाव संपन्न कराने में बड़ा रोल बनकर सामने आएंगे. ऐसे युवाओं को जोड़ा जा रहा है जो न सिर्फ मतदान के लिए लोगों को अवेयर करेंगे बल्कि चुनाव की गड़बडि़यों को लेकर भी पुलिस अफसरों को अगाह करेंगे. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के प्लान पर की जा रही इस पहल में चुनाव से संबंधित अन्य अफसरों की भी मदद ली जा रही है. पुलिस हेडक्वार्टर से इस संबंध में गाइडलाइन जारी किया जा रहा है जिसमें वालंटियर के तौर पर यूथ को जोड़ने पर जोर दिया जा रहा है. बूथ से लेकर सेक्टर तक यूथ की टीम को एक्टिव किया जाएगा.

लोगों को जागरुक करने के मिशन में भी लगेंगे यूथ

डीजीपी कार्यालय से जुड़े पुलिस अधिकारियों की मानें तो यूथ को लेकर बड़ा प्रयोग किया जा रहा है. डीजीपी ने युवाओं को जोड़कर लोगों को जागरुक करने के साथ-साथ उन्हें सुरक्षा व सामंजस्य के मिशन पर लगाया गया है. युवाओं की भूमिका हर आयोजन में बड़ी होती है और इसके सहारे वह बड़ा से बड़ा काम कर सकते हैं. पुलिस को विश्वास है कि युवाओं को जोड़ने से सूचना तंत्र पूरी तरह से मजबूत होगा. प्रयास है कि वालंटियर को अधिक से अधिक जोड़ा जाए जो सुरक्षा के साथ साथ पुलिस की मदद में आगे आएंगे.

यह होगा फायदा

पुलिस को हर एरिया की मिल जाएगी सूचना.

चुनाव के दौरान नहीं होने पाएगी कोई गड़बड़ी.

वालंटियर एक्टिव होने से पुलिस को मिलेगी बड़ी राहत.

आचार संहिता से लेकर अन्य मामलों में कसेगा शिकंजा.

युवाओं को अपने साथ जोड़ने से हर छोटी-बड़ी घटनाओं की जड़ तक पहुंचने में भी मिलेगी पुलिस को मदद.