lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशी पूनम सिन्हा ने गुरुवार को लखनऊ लोकसभा सीट से अपना नामांकन किया। पहले साधारण तरीके से नामांकन को कलेक्ट्रेट पहुंची पूनम सिन्हा ने दो सेट में अपना पर्चा दाखिल किया जिसके बाद वह सपा मुख्यालय आ गयीं। दोबारा हजारों समर्थकों के साथ रोड शो कर दोबारा नामांकन जुलूस की शक्ल में वह कलेक्ट्रेट परिसर पहुंची और दोबारा दो सेट में पर्चा दाखिल किया। इस दौरान रोड शो में उनके पति शत्रुघन सिन्हा भी मौजूद थे जो पटना साहिब से कांग्रेस प्रत्याशी हैं। उन्होंने पार्टी लाइन के विपरीत जाकर अपनी पत्नी एवं गठबंधन प्रत्याशी का समर्थन किया जिससे कांग्रेस को खासी किरकिरी का सामना करना पड़ा है। सूत्रों की मानें तो शत्रुघन अपनी पत्नी के लिए जल्द चुनाव प्रचार करने दोबारा राजधानी आएंगे।

डिंपल यादव भी मौजूद
पूनम सिन्हा के रोड शो के लिए सपा की उस बस का इस्तेमाल किया गया था जिसे अखिलेश ने पिछले विधानसभा चुनाव के लिए खासतौर पर तैयार कराया था। इस बस में कन्नौज से सांसद डिंपल यादव भी मौजूद थीं। वहीं बसपा की ओर से परेश मिश्र को शामिल होने के लिए भेजा गया था। सपा मुख्यालय में सुबह से ही हजारों कार्यकर्ताओं का हुजूम नामांकन जुलूस में शामिल होने के लिए एकत्र हो गया था। करीब पचास से ज्यादा गाडिय़ों के काफिले के साथ नामांकन जुलूस कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुआ तो पूरा रास्ता लाल और नीले झंडों से पट गया। सपा और बसपा के कार्यकर्ता पूरे रास्ते नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट तक पहुंचे जहां पूनम सिन्हा ने शत्रुघन सिन्हा और डिंपल यादव की मौजूदगी में अपना नामांकन दाखिल किया। इस दौरान पूर्व मंत्री अभिषेक मिश्रा और रविदास मेहरोत्रा भी मौजूद रहे।
लोकसभा चुनाव 2019 : सपा की पूनम के नामांकन में कांग्रेस के शॉटगन,डिंपल यादव भी रहीं मौजूद

नफरत फैलाने वाले हो जाएं खामोश

नामांकन में शामिल कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघन सिन्हा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वे परिवार के नाते नामांकन जुलूस में शामिल होने आए हैं, इसमें मेरा पूरा परिवार शामिल है। वहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए बोले कि वन मैन शो और नफरत फैलाने वालों को अब खामोश हो जाना चाहिए। उन्होंने नामांकन जुलूस की तारीफ करने के साथ इसका श्रेय सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती को दिया। वहीं डिंपल ने कहा कि सपा अपने विकास कार्यों को लेकर लखनऊ में चुनाव लड़ेगी। सपा जो कहती है वो करती है। हमने लखनऊ में तमाम शानदार कार्य किए है। वहीं पूनम सिन्हा ने कहा कि हम सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के कार्यों पर लखनऊ की जनता से वोट मांगने आए हैं।

नई राजनीति: एक पैर इधर, एक उधर

पत्रकारों से अभद्रता, मांगी गयी रिपोर्ट
पूनम सिन्हा के नामांकन के दौरान कलेक्ट्रेट परिसर में पत्रकारों से अभद्रता भी की गयी जिसके बाद उच्चाधिकारियों और चुनाव आयोग से पुलिस अफसरों के इस बर्ताव की शिकायत की गयी है। दरअसल पूनम सिन्हा के नामांकन के दौरान पुलिस ने कलेक्ट्रेट परिसर में पत्रकारों की एंट्री का गेट भी बंद कर दिया था जिसके बाद वे प्रत्याशियों के लिए बनाए गये गेट से भीतर जाने का प्रयास कर रहे थे। वहां मौजूद उच्चाधिकारियों ने इस दौरान एक फोटो जर्नलिस्ट से धक्का-मुक्की और गाली गलौच की जिसका पत्रकारों ने जमकर विरोध किया। तत्पश्चात मुख्य निर्वाचन अधिकारी की प्रेस कांफ्रेंस के दौरान इस मामले को उठाया गया जिसके बाद आईजी कानून-व्यवस्था ने घटना पर खेद व्यक्त करते हुए कहा कि इस बाबत लखनऊ के डीएम और एसएसपी से रिपोर्ट मांगी गयी है।
लोकसभा चुनाव 2019 : सपा की पूनम के नामांकन में कांग्रेस के शॉटगन,डिंपल यादव भी रहीं मौजूद

सरोपा भेंटकर पूनम का स्वागत
हजरतगंज में जनपथ मार्केट के सामने व्यापारी समन्वय समिति के अध्यक्ष पवन मनोचा के नेतृत्व में व्यापारियों ने पूनम सिन्हा व उनके पति शत्रुघ्न सिन्हा को सरोपा भेंटकर स्वागत किया। इस मौके पर पवन मनोचा ने कहा कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने राजधानी के विकास को नया आयाम दिया। उनके द्वारा शुरू की गई मेट्रो से व्यापारियों के व्यापार में बढ़ोत्तरी हुई है।