लोकसभा चुनाव में पुलिस की यह खास टीम संभालेगी मोर्चा

खास जवानों की टीम को सीआरपीएफ ने दी है ट्रेनिंग

VARANASI : लोकसभा चुनाव में पैरामिलिट्री फोर्स तो होगी लेकिन बनारस पुलिस की 'स्पेशल 124' टीम भी खास होगी। जरूरत पर पड़ने पर आंतकवादियों से भिड़ जाएगी तो दंगा नियंत्रण में भी साहस का परिचय देते हुए पब्लिक को अपनी मौजूदगी का एहसास कराएगी। शनिवार की सुबह पुलिस लाइन में पुलिस की स्पेशल-124 ने मॉक ड्रिल कर अपनी ताहत का लोहा मनवाया। कार्यक्रम के खास अतिथियों में एडीजी जोन पीवी रामाशास्त्री, डीएम सुरेंद्र सिंह, सीआरपीएफ कमांडेंट नरेंद्रपाल सिंह और एसएसपी आनंद कुलकर्णी रहे।

आतंकी हमलों को नाकाम करने जैसे प्रशिक्षण

वाराणसी पुलिस ने यूनिक क्यूआरटी का निर्माण किया है। सीआरपीएफ ने पुलिस की स्पेशल टीम के 124 जवानों को वेपेन हैंडलिंग, कवर फायरिंग, दंगा नियंत्रण, भीड़ को संभालने के लिए फिक्सिंग, वीआईपी, वीवीआईपी तथा मेला प्रबंधन एवम आतंकी हमलों को नाकाम करने जैसे प्रशिक्षण दो महीने दिया। वाराणसी में आगामी दिनों में होने वाले चुनाव को सकुशल सम्पन्न कराने में यह टीम महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

साइकोलॉजिकल ट्रेनिंग भी मिली है

पुलिस लाइन में सीओ कैंट डॉ। अनिल कुमार की देखरेख में स्पेशल-124 को ट्रेनिंग दी गई। दो माह की ट्रेनिंग समाप्ति पर इन स्पेशल-124 जवानों ने मॉकड्रिल कर अपने हुनर का प्रदर्शन किया। मौके पर एडीजी पीवी रामाशास्त्री ने कहा कि यूनिक क्यूआरटी ट्रेनिंग से जनपद में किसी भी अनहोनी पर निपटा जा सकता है। इसके अलावा पुलिस के जवानों को एक साइकोलॉजिकल ट्रेनिंग भी मिली है जो अति व्यस्तता के दौरान भी उनको रिफ्रेश रखने में मदद करेगी। उनके कार्य क्षमता का विकास होगा।

सीआरपीएफ ने किया ट्रेंड

सीआरपीएफ के कमांडेंट नरेंद्र ने बताया कि सीआरपीएफ ने अपने कड़े अनुभव के आधार पर उन्हें ट्रेंड किया है। इन्हें हर तरीके से ट्रेंड करते हुए यह विशेष ट्रेनिंग दी गई है कि विकट से विकट परिस्थितियों में भी सामने वाले शत्रु के ऊपर कहर बनकर टूट पड़ें। एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया की छोटी बड़ी हर गतिविधियों के लिए यह फोर्स सक्षम है तथा चुनाव में भी इन्हें प्रयोग में लाया जाएगा खास करके वीवीआईपी मूवमेंट के दौरान ये फोर्स अलर्ट मोड में काम करेगी।

संभालेंगे मोर्चा

-बनायी गयी है पुलिस के 124 जवानों की विशेष टीम

-इस क्यूआरटी को सीआरपीएफ ने किया है ट्रेंड

-दो महीने की ट्रेनिंग में अत्याधुनिक हथियार चलाने से लेकर बचाव की दी गयी जानकारी

-आतंकी हमले और भीड़ से निपटने में कुशल हैं स्पेशल टीम के जवान

-देश की सबसे महत्वपूर्ण सीट पर चुनाव कराने निभाएगी अहम भूमिका