- बवालों की मांगी गई है रिपोर्ट, जारी किया गया अलर्ट

- पुलिस की सुरक्षा में घर भेजे जाएंगे नवनिर्वाचित सांसद

GORAKHPUR@inext.co.in
GORAKHPUR: लोकसभा चुनाव की मतगणना के दौरान ड्रोन कैमरों से निगरानी की जाएगी। यूनिवर्सिटी कैंपस को सीसीटीवी कैमरों से लैस किया जा रहा है। कैंपस के भीतर से लेकर बाहर तक की गतिविधियों की मॉनीटरिंग के लिए एसएसपी ने पुलिस टीम गठित की है। ईवीएम को लेकर हो रहे बवाल को देखते हुए चार स्तर पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। एसएसपी ने कहा कि सभी पुलिस अधिकारियों की बैठक बुलाकर सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने की तैयारी कर ली गई है।

कोई ना ले बदला, एक हफ्ते होगी विशेष नजर
मतगणना के पूर्व आरोप-प्रत्यारोप को लेकर चल रहे माहौल को देखते हुए जिला पुलिस अलर्ट मोड में है। चुनावी माहौल में विवाद वाली जगहों से एलआईयू की रिपोर्ट मांगी गई है। यह भी पता लगाया जा रहा है कि कहां-कहां पर किन लोगों के बीच ज्यादा विवाद हो सकता है। शहर के प्रमुख चौराहों से लेकर गांव-मोहल्लों के चौराहे तक पुलिस फोर्स को तैनात करने की तैयारी की गई है। एसएसपी ने कहा कि रिजल्ट आने के एक हफ्ते बाद तक नजर रखी जाएगी। इस दौरान जीत-हार को लेकर होने वाली समीक्षा में मारपीट तक हो जाती है।

चार स्तरों पर ईवीएम की सुरक्षा, लगी सीआईएसएफ
ईवीएम को लेकर हो रहे बवाल को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। यूनिवर्सिटी के दीक्षा भवन में बने स्ट्रांग रूम की निगरानी में सीआईएसएफ, एसएसबी, पीएससी और जिला पुलिस की तैनाती की गई है। स्ट्रांग रूम से लेकर यूनिवर्सिटी के बाहर तक नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। मतगणना के दौरान ड्रोन कैमरों से बाहर की गतिविधियों पर भी नजर रखी जाएगी। मतगणना के इंट्री और एग्जिट प्वॉइंट्स भी सीसीटीवी कैमरों की नजर में रहेंगे।

विजय जुलूस पर रोक, सुरक्षा में जाएंगे घर
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि चुनाव परिणाम आने के बाद नवनिर्वाचित सांसद विजय जुलूस नहीं निकाल सकेंगे। मतगणना स्थल से निकलने के बाद उनको पुलिस सुरक्षा में घर पहुंचाया जाएगा। नेताओं और उनके कार्यकर्ताओं के बीच सादे कपड़ों में मौजूद रहकर पुलिस कर्मचारी नजर रखेंगे। मंगलवार को पुलिस लाइन में आयोजित बैठक में सभी अधिकारियों और थानेदारों की बैठक में एसएसपी ने निर्देश जारी किया। सकुशल चुनाव संपन्न कराने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों का उन्होंने आभार जताया।

बिना एनसीआर दर्ज किए चुनाव सकुशल संपन्न कराने में सहयोगी अधिकारियों और कर्मचारियों की विशेष भूमिका रही है। मतगणना को देखते हुए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। मंगलवार को पुलिस लाइन में मीटिंग बुलाकर जरूरी निर्देश दिए गए।

- डॉ। सुनील गुप्ता, एसएसपी गोरखपुर