-दृष्टिबाधित मतदाता भी आसानी से दे सकेंगे वोट,

-दिव्यांगजनों को मिलेगी रैंप, व्हील चेयर, ई-रिक्शा की सुविधा

varanasi@inext.co.in

VARANASI : वाराणसी लोकसभा क्षेत्र में 19 मई को कोई भी मतदाता मतदान से वंचित न रह जाएं, इसके लिए निर्वाचन आयोग ने पूरी तैयारी की है. इसी कड़ी में दिव्यांग मतदाताओं के लिए भी खास इंतजाम किये गए हैं. सभी 2920 पोलिंग बूथों पर दृष्टि बाधित दिव्यांग मतदाताओं के लिए ब्रेल लिपि से लैस ईवीएम लगायी जाएंगी. इसके अलावा दिव्यांग मतदाताओं के लिए रैंप, व्हीलचेयर, ई-रिक्शा आदि सुविधाएं रहेंगी.

सुगम होगा मतदान

स्वीप प्रभारी एवं सीडीओ गौरांग राठी ने बताया कि दृष्टिबाधित दिव्यांग मतदाताओं के सुलभ मतदान के लिए इस बार ब्रेल लिपि से लैस ईवीएम इस्तेमाल की जा रही है. ब्रेल लिपि में सभी कैंडिडेट के अनुसार डॉट्स बने होंगे. ताकि मतदाताओं को कोई दिक्कत न हो.

हर हाल मे पहुंचे मतदाता बूथ तक

स्वीप प्रभारी ने बताया कि पीठासीन अधिकारी या प्रथम मतदान अधिकारी को किसी तरह की अलग से ट्रेनिंग नहीं दी जा रही है, क्योंकि ब्रेललिपि को सिर्फ दृष्टिबाधित व्यक्ति ही समझ सकता है. इसके अलावा उन्होंने बताया कि हमने 14 सौ दृष्टिबाधित मतदाता चिह्नित किये हैं. इसके अलवा हमारा टारगेट है कि हम अपने 1136 पोलिंग स्टेशन पर दिव्यांग मतदाताओं को हर हाल में पहुंचाएं, इसके लिए हम ऑटो रिक्शा और ई रिक्शा चालकों से संपर्क कर हर जगह वाहन की व्यवस्था की जाएगी.

मदद के लिए वॉलेंटियर्स रहेंगे मौजूद

सभी मतदान केंद्रों पर दिव्यांग मतदाताओं को सहयोग करने के लिए वॉलेंटियर्स मौजूद रहेंगे. वॉलेंटियर्स के रूप में राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस), भारत स्काउट एंड गाइड और नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडेट्स स्वैच्छिक सेवा देंगे.

कल होगा महासम्मेलन

सीडीओ ने बताया कि हर पोलिंग बूथ पर एनसीसी और एनएसएस के स्टूडेंट दिव्यांग मित्र के रूप में तैनात रहेंगे. स्वीप कार्यक्रम के तहत बुधवार को गिरजा देवी सांस्कृति संकुल में दिव्यांग महासम्मेलन होगा. इसमें मतदाता जागरूकता के लिए लगे दिव्यांग लोगों को सम्मानित किया जाएगा और दिव्यांग मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित किया जाएगा.

दिव्यांगजनों के लिए सुविधाएं

-मतदान केंद्रों पर दिव्यांग मतदाताओं के लिए रैंप, व्हील चेयर, पेयजल, शौचालय और शेड समेत अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी.

-घर से मतदान केंद्र तक लाने और पहुंचाने के लिए नि:शुल्क परिवहन उपलब्ध कराया जाएगा.

-मतदान केंद्र के लिए उचित पहुंच पथ के साथ मानक निदेशक सूचकों के साथ मतदान कक्ष के मार्ग पर संकेतक लगा रहेगा.

- घर-घर तक वोटर पर्ची का वितरण और मतदान के पूर्व उनके मतदान केंद्र का लोकेशन बताया जाएगा.

-दृष्टिबाधित मतदाताओं के लिए ईवीएम में ब्रेल लिपि में सुविधा प्रदान की जाएगी