PATNA : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार शाम पटना में रोड शो किया। शत्रुघ्न सिन्हा के पक्ष में किए गए रोड शो में महागठबंधन के नेताओं ने अपनी ताकत दिखाई। रोड शो के लिए बनाई गई विशेष गाड़ी पर राहुल गांधी के साथ तेजस्वी यादव, शत्रुघ्न सिन्हा के साथ कांग्रेस के कई बडे़ नेता सवार थे। रोड-शो के दौरान जनसैलाब उमड़ पड़ा। राजेंद्रनगर स्थित मोइनुलहक स्टेडियम से शाम छह बजे निकला रोड शो प्रेमचंद गोलंबर, दिनकर चौक से सीधे शिवमंदिर से नाला रोड तिराहे तक करीब 45 मिनट में पहुंचा।

लगते रहे जिंदाबाद के नारे

चारों तरह महागठबंधन और कांग्रेस जिंदाबाद के नारे लगते रहे। समर्थकों ने रास्ते में जगह-जगह पर गुलाब और गेंदा के फूलों की बारिश की। इससे पूर्व शाम करीब चार बजे से स्टेडियम परिसर में कांग्रेस और राजद के नेता व कार्यकर्ता जुटने लगे। कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, सांसद तारिक अनवर भी सैकड़ों समर्थकों के साथ पहुंचे। शाम लगभग पौने छह बजे बिहारी बाबू पत्नी पूनम सिन्हा के साथ आए। इसके बाद तालियों की गड़गड़ाहट शुरू हो गई। ठीक छह बजे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के काफिले ने स्टेडियम परिसर में प्रवेश किया। इसके तुरंत बाद राहुल गांधी, शत्रुघ्न सिन्हा, पूनम सिन्हा, मदन मोहन झा, तारिक अनवर सहित महागठबंधन में शामिल दलों के वरिष्ठ नेता चुनावी रथ पर सवार होकर निकल पड़े। पीछे करीब 30 गाडि़यों का काफिला था।

छतों से लोगों ने किया अभिवादन

रोड-शो जिन-जिन रास्तों से गुजर रहा था, सड़क के दोनों ओर रस्सी पर कांग्रेस के झंडे लगाकर घेराबंदी की गई थी। हाथ में पार्टी का बैनर लेकर हजारों लोग चुनावी रथ के साथ सड़क पर पैदल चल रहे थे। काफिले में राजद समर्थकों के वाहन भी थे। दिनकर चौक पर महज दो मिनट के लिए रथ रुका। इस पर तेजस्वी यादव सवार हुए। इस दौरान समर्थकों ने उन्हें फूलों की बड़ी माला पहनाने की कोशिश की, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने रोक दिया। लोग मकानों की छतों, बालकनी और खिड़कियों से हाथ हिला अभिवादन कर रहे थे। इस दौरान बड़ी संख्या में युवाओं की टोली भी रथ के साथ चल रही थी। धीरे-धीरे रथ नाला रोड तिराहे से चंद कदम पहले शत्रुघ्न सिन्हा के मकान वाली गली के मोड़ पर रुक गया। वहां शत्रुघ्न सिन्हा, तेजस्वी यादव के बाद राहुल गांधी ने जनता को संबोधित किया।

बिक्रम में राहुल ने केंद्र पर किया वार

राहुल गांधी ने गुरुवार को बिक्रम में मीसा भारती के समर्थन में चुनावी सभा की। इस दौरान सिर्फ मंच के आगे डी एरिया के इर्द-गिर्द ही समर्थक और कार्यकर्ता दिख रहे थे। अपेक्षा के अनुरूप लोगों की भीड़ नहीं जुट सकी। तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खूब भला-बुरा कहा तो राहुल ने केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर अनिल अंबानी के बैंक खाते से पैसा निकालकर गरीबों को साल में 72 हजार रुपये देने का वादा किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि जिन-जिन लोगों के खाते में मोदी ने पैसा दिया है, उसे निकालकर हर परिवार को पांच साल में 3.60 लाख रुपये देकर न्याय योजना को कांग्रेस साकार करेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आएगी तो कर्ज के लिए किसानों को जेल नहीं भेजा जाएगा।