-नजीराबाद थाना क्षेत्र में बाइक सवार दो लुटेरों ने की वारदात, सीओ ने घटना की पुष्टि की, थानेदार संदिग्ध बता रहे

kanpur@inext.co.in

KANPUR : नजीराबाद इलाका लुटेरों का गढ़ बन गया है. पुलिस पुरानी वारदातों को खोल भी नहीं पाई है कि मंगलवार को बाइक सवार लुटेरों ने मार्केटिंग मैनेजर से 21 हजार रुपए लूट लिए. मैनेजर की लुटेरों से हाथापाई भी हुई, लेकिन किसी के मदद न करने पर लुटेरे रुपए लेकर भाग गए. वह रिपोर्ट दर्ज कराने थाने गए तो उनको यह कहकर टरका दिया गया कि घटना संदिग्ध है. वहीं, सीओ ने घटना की पुष्ि1ट की है.

लुटेरे अंगौछे से चेहरा ढके थे

श्यामनगर पीएससी मोड़ निवासी देवेंद्र सिंह हर्षनगर निवासी एलएमएल ग्रुप में मार्केटिंग का काम करते है. देवेंद्र सुबह आठ बजे घर से निकला था. वह आटो से गुमटी पहुंचा जहां से पैदल 80 फिट रोड की ओर जा रहा था तभी बाइक सवार लुटेरों ने उसे रोक लिया. लुटेरों से उसकी हाथापाई भी हुई, लुटेरों ने उन्हे पटक दिया और उनकी जेब में रखे 21 हजार रुपये लूटकर भाग गए. सीओ अजीत सिंह चौहान ने फोर्स के साथ मौके पर पड़ताल की तो लोगों ने बताया कि लुटेरे अंगौछे से चेहरा ढके हुए थे.

मै शाम को आया हूं, मुझे नहीं मालूम.

सीओ ने लूट की घटना की पुष्टि करते हुए जांच करने का दावा किया है, लेकिन थानेदार को घटना की जानकारी ही नहीं थी. उन्होंने फोन पर बताया कि वह शाम को ही छुट्टी से लौटे है. उनको जानकारी नहीं है. वहीं, उनके आने से पहले कार्यवाहक थाना प्रभारी ने यह कहा था कि कोई लूट नहीं हुई है. मैनेजर के जेब से रुपये गिर गए है. वह बचने के लिए लूट की कहानी बना रहा है.