-चेकिंग के बहाने जालसाज ले गए ज्वेलरी

-कैंट एरिया के बेतियाहाता में हुई थी घटना

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR: शहर के भीतर पुलिस कर्मचारी बनकर उचक्कों ने रिक्शा सवार महिला के गहने लूट लिए. घटना बेतियाहाता मोहल्ले में हुई. महिला के परिजनों की सूचना पर पुलिस जांच में जुटी है. इसके पहले भी शहर में पुलिस कर्मचारी बनकर जालसाज कई लोगों को चूना लगा सके हैं. सीसीटीवी फुटेज में पहचान होने के बावजूद पुलिस जालसाजों तक नहीं पहुंच सकी. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जालसाजों की तलाश में पुलिस टीम लगी है.

चेकिंग के बहाने उतरवा ले गए ज्वेलरी
अलहदादपुर मोहल्ले के राकेश गुप्ता की पत्नी संध्या गुरुवार दोपहर करीब एक बजे बेतियाहाता चौराहे पर गई. वह बेतियाहाता में मिठाई खरीदने पहुंचीं. दुकान के पास ही पीछे से आए दो युवकों ने उनको रोक लिया. बताया कि आगे एक व्यक्ति की हत्या हो गई है. खुद को पुलिस कर्मचारी बताते हुए जांच के लिए सिविल ड्रेस में होने का हवाला दिया. कहा कि डीआईजी का निर्देश है कि जो भी महिलाएं जेवर पहनकर निकलती हैं सुरक्षा के लिए पुलिस उनके गहने अपने पास रख ले.

राह चलते हुई जालसाजी से सनसनी
महिला उनकी बातों को सुनकर असमंजस में पड़ गई. तभी वहां पर बाइक सवार एक युवक पहुंचा. दोनों ने उससे भी यही बात बताई. अपने गले में पहना हुआ सोने का चेन निकालकर दोनों को देकर चला गया. बाइक सवार के चेन देने से महिला भी झांसे में आ गई. गले से सोने की चेन, अंगूठी निकालकर दे दिया. जालसाजों ने उससे कंगन भी निकालने के लिए कहा. लेकिन हाथ में कंगना कसा होने की वजह से निकल सका. युवकों ने महिला से कहा कि लौटते समय पुलिस चौकी से गहने लेकर चले जाइएगा. थोड़ी देर बाद मिठाई खरीदकर संध्या पुलिस चौकी पर पहुंचीं. वहां पुलिस कर्मचारियों ने बताया कि इस तरह का कोई आदेश जारी नहीं हुआ है. न ही शहर में कोई पुलिस कर्मचारी चेकिंग में निकला है. तब पता लगा कि महिला के साथ जालसाजी हुई है. पुलिस ने आसपास की दुकानों में लगे सीसीटीवी फुटेज देखकर बदमाशों का सुराग लगाने का प्रयास किया. अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके पुलिस जांच में जुटी है.

महिला की सूचना पर कार्रवाई की जा रही है. बाइक सवार युवकों ने खुद को पुलिस कर्मचारी बताकर उनसे गहने उतरवा लिए थे. मामले की छानबीन की जा रही है.

रवि कुमार राय, इंस्पेक्टर कैंट