- तीन साल से चल रहा था प्रेम संबंध, 25 को थी शादी

- खोराबार एरिया के बड़की कैथवलिया में हुई घटना

gorakhpur@inext.co.in

GORAKHPUR : खोराबार एरिया के बड़की कैथवलिया में शीशम के पेड़ में फंदे से झूलती लव ब‌र्ड्स की डेड बॉडी मिली। मंगलवार की सुबह खेत की तरफ गए लोगों ने दोनों के मर्डर की आशंका में पुलिस को सूचना दी। लोगों ने पुलिस को बताया कि युवती गांव के ओम प्रकाश की बेटी पूजा है। युवक उनके रिश्तेदार जंगल सिकरी निवासी सरबजीत का बेटा धर्मेद्र कुमार है। दोनों के बीच करीब तीन साल से प्रेम संबंध चल रहा था। परिस्थितियों के आधार पर पुलिस ने लव ब‌र्ड्स के सुसाइड करने का दावा किया। एसएसपी ने कहा कि मामले की छानबीन जारी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मामले की गुत्थी सुलझ जाएगी। पूछताछ के लिए पुलिस ने युवती की मां और भाई को हिरासत में ले लिया।

रात में पकाया भोजन, छत पर सो रही थी अकेली

मंगलवार की सुबह कुछ लोग खेतों की तरफ गए। कर्बला के पास शीशम के पेड़ से लटकती युवक-युवती की डेड बॉडी देखकर शोर मचाया। पुलिस के पहुंचने पर पूजा के घरवालों ने बताया कि रात में उसी ने भोजन पकाया। खाना खाने के बाद वह अकेली छत पर सोने चली गई। मंगलवार सुबह वह बिछौने पर नहीं थी इसलिए मां भी उसकी तलाश कर रही थी।

रिश्तेदारी होने से आता-जाता था धर्मेद्र

युवक की मौत की सूचना पर जंगल सिकरी निवासी परिजन भी मौके पर पहुंचे। घरवालों ने बताया कि धर्मेद्र अक्सर पूजा के घर आता-जाता था। करीब तीन साल पूर्व दोनों के बीच प्रेम हो गया। तभी से एक दूसरे से शादी करना चाहते थे। धर्मेद्र के परिजनों ने हामी भर दी लेकिन शादी से इंकार करते हुए पूजा के परिजनों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी। 25 जून को पूजा के घर बारात आने वाली थी। परिजनों ने शादी का न्यौता भी बांट दिया था।

मोहब्बत नहीं मिली तो मौत को लगाया गले

पुलिस का कहना है कि दोनों एक दूसरे से अलग रहने को तैयार नहीं थे। शादी तय होने के बाद उनकी उम्मीदें टूट गईं। इसलिए दोनों ने साथ मरने का फैसला कर लिया। पूजा की शादी की तैयारी घर में चल रही थी लेकिन उसकी मौत से सारी तैयारियों पर पानी फिर गया। परिजनों ने पुलिस को बताया कि दो माह पूर्व उनके बीच पंचायत भी हुई थी। पूजा की शादी तय होने पर धर्मेद्र ने हिम्मत जुटाकर घरवालों को राजी किया। उसने कहा था कि वह पूजा के बिना जी नहीं सकेगा। इस बात की जानकारी युवती के घरवालों को हुई तो दोनों पक्षों के बीच शादी को लेकर पंचायत भी हुई लेकिन पूजा के घरवाले राजी नहीं हुए। उल्टे पूजा पर बंदिशें बढ़ा दी गई। माना जा रहा है कि साथ जीने में जब जमाना रोड़ा बना तो दोनों ने मौत का फैसला ले लिया।

गमछे से झूला धर्मेद्र, पूजा ने लगाया दुपट्टे का फंदा

पूजा और धर्मेद्र की माली हालत ठीक नहीं थी। परिवार का खर्च चलाने के लिए धर्मेद्र मजदूरी करता था। सोमवार सुबह वह कोल्डड्रिंक की शॉप पर काम करने निकला था। दोनों के बीच गहरे प्रेम की गवाही धर्मेद्र के सीने पर गोदना से बना दिल दे रहा था। उस दिल में जहां पूजा का नाम लिखा हुआ था। वहीं पूजा के हाथ की अंगुली में मिली अंगूठी पर डीपी का सिंबल बना हुआ था। जिस पेड़ से दोनों की डेड बॉडी लटक रही थी उसके पास दो मोबाइल फोन, सिगरेट का पैकेट, टॉफी मिली। धर्मेद्र की जेब में 120 रुपए थे। पूजा ने अपने दुपट्टे से फंदा लगाया था जबकि गमछे से धर्मेद्र झूल रहा था। पुलिस का कहना है कि मौत से पहले दोनों ने पोखरे में स्नान किया था। उनके बदन पर कपड़े गीले मिले।

आत्मघाती कदम से दहल उठे लोग

घटना की सूचना पर पहुंचे लोगों ने पहले मर्डर की आशंका जताई। एसपी क्राइम, सीओ कैंट सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। डेड बॉडी पर सुसाइड के सिम्टम्प्स देख पुलिस ने सुसाइड की पुष्टि कर दी। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद फाइनल रिजल्ट आने की बात कही। धर्मेद्र और पूजा के आत्मघाती कदम की पूरे इलाके में चर्चा होती रही। चार भाईयों में सबसे बड़ा धर्मेद्र ही परिवार का सहारा था। उसके अन्य तीन भाई महेंद्र, जितेंद्र और गुड्डू हैं। उसकी गर्लफ्रेंड पूजा दो भाई और तीन बहनों में दूसरे नंबर की थी।

पिता से बोला था, शादी ना हुई तो देगा जान

धर्मेद्र के पिता ने पुलिस को बताया कि उनका बेटा पूजा से शादी करने का दबाव बना रहा था। उसने कहा था कि अगर पूजा से शादी नहीं हुई तो वह जान गंवा देगा। खोराबार पुलिस को तहरीर देकर धर्मेद्र के पिता ने कहा कि उनके बेटे ने नाराजगी और डिप्रेशन में आकर यह कदम उठाया। इसमें पूजा ने भी उसका साथ दिया।

घटना की छानबीन की जा रही है। मौके की जांच के बाद दोनों के सुसाइड करने की बात सामने आई। युवक और युवती के परिजनों ने बताया है कि दोनों के बीच प्रेम संबंध थे। शादी न होने पर दोनों ने यह कदम उठाया।

- डॉ। सुनील गुप्ता, एसएसपी