- अब स्टूडेंट्स को ईमेल पर भेजी जाएंगी आरटीई की कॉपियां

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

एलयू में अब राइट टू इंफॉर्मेशन के तहत स्टूडेंट्स को अपनी कॉपियों में गलतियां खोजे नहीं मिलेगी. यूनिवर्सिटी अब आरटीई के तहत स्टूडेंट्स को कॉपियां दिखाने से पहले खुद एक बार उनको जांचेगा. एलयू प्रशासन इस बार से आरटीई के तहत कॉपी देने का सिस्टम में बदलाव करने जा रहा है. एलयू में अब तक कॉपी छात्र को बुलाकर दिखाई जाती थी लेकिन इस बार से छात्रों की ईमेल आईडी पर यह भेजी जा रही हैं.

पैनल चेक करेगा कॉपी

परीक्षा विभाग ने कॉपी चेक करने के लिए एक पैनल का गठन किया है. जितने भी स्टूडेंट्स ने कॉपी देखने के लिए आवेदन किया है उनकी कॉपी पहले पैनल चेक कर रहा है. जो कमियां मिल रही हैं उन्हें यही पैनल दूर कर रहा है. ऐसे में जो कॉपी छात्रों को ईमेल पर मिलेगी उससे पता चल जाएगा कि नंबर बढ़े हैं या नहीं.

डालना होगा पासवर्ड

ईमेल पर भेजी जा रही कॉपियां भी हर कोई नहीं देख सकेगा. यह पीडीएफ फॉर्म में होगी जिसे खोलने के लिए पासवर्ड की जरूरत पड़ेगी. यह पासवर्ड परीक्षा विभाग की ओर से स्टूडेंट्स के मोबाइल पर भेजा जाएगा. ऐसे में अगर किसी स्टूडेंट्स की ईमेल आईडी कोई हैक कर खोलता है तो भी वह इसे नहीं देख सकेगा.

कॉपियों की स्कैनिंग शुरू

परीक्षा विभाग में इस व्यवस्था को अंजाम देने के लिए बड़े पैमाने पर कॉपियों की स्कैनिंग का काम चल रहा है. हजारों की संख्या में कॉपियां देखने के आवेदन आते हैं. ऐसे में पहले बीए, बीएससी और बीकॉम की कॉपियां स्कैन कर भेजी जा रही हैं कारण यह है कि उनके बैकपेपर एग्जाम पहले होंगे. इसके बाद सेमेस्टर एग्जाम वाले कोसरें की कॉपियां स्कैन कर भेजी जाएगी. छात्रों को मिली कॉपी में फिर भी अगर कोई गलती हो या कोई आपत्ति हो तो छात्र परीक्षा विभाग संपर्क कर सकता है.