pankaj.awasthi@inext.co.in LUCKNOW (10 Jan): करोड़ों खर्च कर बनाए गए गोमती रिवरफ्रंट की वीरानी जल्द दूर होने वाली है। योगी सरकार ने रिवरफ्रंट को फिर से आबाद करने के लिये इसे सांस्कृतिक व धार्मिक टच देने की योजना बनाई है। इसके तहत पर्यटकों को आकर्षित करने के लिये न सिर्फ रिवरफ्रंट में रामायण-महाभारत के प्रसंगों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी बल्कि, बंद पड़े फव्वारों को भी फिर से चालू किया जाएगा। रिवरफ्रंट के गूंजने वाले म्यूजिक को भी बदलने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश सरकार के इस निर्णय को इन्वेस्टर्स समिट से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

जल्द पूरे होंगे अधूरे काम

योगी सरकार ने सत्ता संभालते ही गोमती रिवर फ्रंट में हुए कथित घोटाले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी। सीबीआई ने जांच को टेकअप करते हुए एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू भी कर दी। जांच की आंच में रिवरफ्रंट में चल रहे कामों पर ब्रेक लग गया था। वहीं, समतामूलक चौराहे से लामाट्र्स कॉलेज तक गोमती तट पर बनाए गए गोमती रिवरफ्रंट की रौनक भी गायब हो गई। लेकिन, अब प्रदेश सरकार ने इसकी रौनक लौटाने के लिये इसे रामायण-महाभारत थीम से सजाकर इसकी रौनक फिर से लौटाने की योजना बनाई है। सिंचाई विभाग केसूत्रों केमुताबिक सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से सकारात्मक रुख अपनाते हुए यह निर्णय लिया गया है कि गोमती रिवरफ्रंट के अधूरे काम जल्द पूरे कराए जाएंगे। वहीं, जो जांच चल रही हैं वह भी बरकरार रहेंगी।

लखनऊ का गोमती रिवरफ्रंट अब सजेगा रामायण - महाभारत की थीम पर

हिंदी में प्रार्थना कराने वाले इन व‍िद्यालयों के ख‍िलाफ याच‍िका दायर, SC ने मांगा जवाब

पुनर्जीवित होगा आदि गंगा का पौराणिक स्वरूप

प्रदेश सरकार ने जो योजना बनाई है, उसके मुताबिक, आदि गंगा के नाम से विख्यात गोमती नदी के तट पर बने गोमती रिवरफ्रंट पर पौराणिक स्वरूप को पुनर्जीवित किया जाएगा। इसके तहत रिवरफ्रंट पर लगे म्यूजिकल फाउंटेन में बजने वाले पॉप म्यूजिक की जगह अब रामायण-महाभारत काल के लोकसंगीत को बजाया जाएगा। इतना ही नहीं, रिवरफ्रंट पर रामायण-महाभारत के प्रसंगों की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। गोमती नदी को खूबसूरत और स्वच्छ बनाने के लिये शारदा नहर से अतिरिक्त पानी छोड़ा जा रहा है। मौजूदा समय में बंद चल रही लाइटों को फिर से दुरुस्त कर उन्हें रोशन किया जाएगा।

तो क्‍या इस वजह से JNU से लापता हुआ ये दूसरा छात्र, पहले वाले का तो आज तक पता नहीं

इन्वेस्टर्स समिट से पहले चमकेगा

प्रदेश सरकार ने 21-22 फरवरी को राजधानी में आयोजित होने वाली इन्वेस्टर्स समिट से पहले रिवरफ्रंट को चमकाने की योजना है। बताया जा रहा है कि रिवरफ्रंट के साथ ही जेपीएनआईसी का भी काम जल्द पूरा करने के निर्देश दिये गए हैं। दरअसल, सरकार चाहती है कि समिट में आने वाले निवेशकों व उद्योगपतियों के दिलो-दिमाग में प्रदेश की अच्छी छवि बने और इस छवि का लाभ प्रदेश में निवेश का माहौल बेहतर करने में किया जा सके।

गोमती रिवरफ्रंट के अधूरे पड़े निर्माण व साज-सज्जा के कामों को पूरा करने के लिये 15 जनवरी को चीफ सेक्रेटरी ने बैठक बुलाई है। जिसमें इसे जल्द से जल्द पूरा करने को लेकर विचार किया जाएगा।

सुरेश चंद्रा, प्रमुख सचिव, सिंचाई

National News inextlive from India News Desk