- 121 कैंडीडेट ने ही किया आवेदन

- 40 प्रतिशत मानक के अनुरुप नहीं आए आवेदन

- 20 जून को समाप्त हुई काउंसिलिंग

- 20 दिन आगे बढ़ाई गई थी आवेदन डेट

- 25 डिप्लोमा कोर्स फाइनेंस मोड में

- 23 डिप्लोमा कोर्स रेगुलर मोड में

- डेढ़ महीने से अधिक चले आवेदन प्रक्रिया के बाद भी नहीं मिले कैंडीडेट

- 48 डिप्लोमा कोर्स में केवल 3 कोर्स में मानक के अनुरूप आवेदन

इस सेशन से बंद कर दिया जाएगा
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW :
लखनऊ यूनिवर्सिटी में संचालित डिप्लोमा कोर्स को इस सेशन से बंद कर दिया जाएगा. अगले कुछ दिनों में वीसी से मंजूरी लेने के बाद इन कोर्सेस में आवेदन वापस कर दिये जाएंगे. एलयू प्रशासन की ओर से डिप्लोमा व सर्टिफिकेट कोर्सेस में एडमिशन के लिए आवेदन की प्रक्रिया करीब डेढ़ महीने चली, जिसमें कुल 121 आवेदन ही आए. इन डिप्लोमा कोर्सेस में आवेदन के लिए प्रक्रिया 20 जून को समाप्त हो चुकी है. वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन की ओर से आवेदन की संख्या बढ़ाने के लिए आवेदन की डेट 20 दिन आगे भी बढ़ाई गई थी. एलयू के नियम के अनुसार किसी भी कोर्स के संचालन के लिए सीटों के सापेक्ष 40 प्रतिशत आवेदन आना अनिवार्य है.

तीन कोर्स में मानक हो रहे पूरा
लखनऊ यूनिवर्सिटी में सेशन 2018-19 में 48 डिप्लोमा व सर्टिफिकेट कोर्स में एडमिशन के लिए आवेदन शुरू किया था. इनमें से 25 डिप्लोमा कोर्स सेल्फ फाइनेंस मोड और 23 कोर्स रेगुलर मोड में संचालित होते हैं. इनमें से केवल 3 कोर्स ऐसे हैं जिनमें एडमिशन के मानकों के अनुसार आवेदन आए हैं. वहीं करीब आधा दर्जन कोर्सेस में एक या दो आवेदन आए हैं. उधर, डेढ़ दर्जन सेल्फ फाइनेंस डिप्लोमा कोर्स के खाते भी नहीं खुले. सभी सेल्फ फाइनेंस डिप्लोमा कोर्स पर संकट

आमदनी पर संचालित करने का ऑर्डर जारी
यूनिवर्सिटी की ओर से इस सेशन में सभी सेल्फ फाइनेंस मोड में संचालित होने वाले कोर्सेस को अपनी ही आमदनी पर संचालित करने का ऑर्डर जारी किया गया है, लेकिन सेल्फ फाइनेंस मोड के 25 डिप्लोमा कोर्स में कुल 25 ही आवेदन आए. एडमिशन कोऑर्डिनेटर प्रो. अनिल मिश्रा ने बताया कि इन कोर्सेस की स्थिति के बारे में जानकारी दे दी गई है. इन कोर्स में मानक के अनुरूप आवेदन नहीं आए हैं. ऐसे में यह कोर्स बंद कर दिए जाएंगे. साथ ही इन कोर्स को संचालित करना है या नहीं इस बारे में नए स्तर से सभी डिपार्टमेंट को समीक्षा करने को कहा जाएगा.

दो दर्जन से अधिक का नहीं खुला खाता
एडमिशन कोऑर्डिनेटर प्रो. अनिल मिश्रा ने बताया कि 25 सेल्फ फाइनेंस डिप्लोमा कोर्सेस में करीब डेढ़ दर्जन कोर्स ऐसे हैं, जिनमें एक भी आवेदन नहीं आए हैं. वहीं रेगुलर डिप्लोमा कोर्स में करीब नौ कोर्सेस का खाता नहीं खुला है. वहीं एक दर्जन डिप्लोमा कोर्स ऐसे हैं, जिनमें एक या दो आवेदन ही आए हैं. उन्होंने बताया कि ऐसे में यह सभी कोर्स बंद कर दिए जाएंगे, लेकिन इस पर वीसी को अंतिम निर्णय लेना है.

डिप्लोमा कोर्सेस में आए आवेदन

डिप्लोमा कोर्सेस के नाम कुल आवेदन

पीजी डिप्लोमा इन नेचुरोपैथी साइंस एंड योग 20

पीजी डिप्लोमा इन काउंसिलिंग एंड गाइडेंस 14

पीजी डिप्लोमा इन डिजास्तर रिलीफ एंड रिहेबिलिटेशन 14

पीजी डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिानिक्स मीडिया एंड फिल्म प्रोडक्शन 5

पीजी डिप्लोमा इन हॉस्पिटल एंड हेल्थ केयर 3

पीजी डिप्लोमा इन हृयूमन रिसोर्स एंड मैनेजमेंट 3

पीजी डिप्लोमा इन पब्लिक रिलेशंस एंड एडवरटाइजिंग 9

पीजी डिप्लोमा इन रिप्रोडक्टिव एंड चाइल्ड हेल्थ 6

पीजी डिप्लोमा इन रूरल मैनेजमेंट 3

पीजी डिप्लोमा इन रिमोट सेंसिंग एंड जीआईएस 2

पीजी डिप्लोमा इन एक्सप्लोरेशन रिर्सोस एंड माइनिंग टेक्नोलॉजी 9

पीजी डिप्लोमा इन बायोडावर्सिटी, वाइल्ड लाइफ कंर्जवेशन एंड मैनेजमेंट 1

इन डिप्लोमा कोर्सेस का नहीं खुला खाता

पीजी डिप्लोमा इन क्लिनिकल न्यूट्रीशन एंड डाईट

पीजी डिप्लोमा इन फूड प्रोसेसिंग

पीजी डिप्लोमा इन फ्रेंच

पीजी डिप्लोमा इन जर्मन

पीजी डिप्लोमा इन गर्वनेंस एंड लीडरशिप

पीजी डिप्लोमा इन एचआईवी एड्स एंड फैमिली लाइफ एजुकेशन एंड हेल्थ केयर

पीजी डिप्लोमा इन मैनेजमेंट ऑफ एनजीओ