ऐप पर ई-चालान की जानकारी के साथ भुगतान भी हो सकेगा

meerut@inext.co.in

MEERUT : परिवहन विभाग ने अपने आवेदकों की सुविधा को देखते हुए अपने एम परिवहन ऐप का दायरा बढ़ा दिया है. अभी तक यह ऐप सिर्फ वाहन नंबर के जरिए वाहन की डिटेल बताने के साथ ही चेकिंग के दौरान वाहन के कागजात की सॉफ्ट कॉपी ऑनलाइन दिखाने तक सीमित था. मगर अब इस ऐप पर लाइसेंस से लेकर नए व पुराने वाहनों के रजिस्ट्रेशन संबंधी सुविधाएं भी आवेदकों को मिलेंगी. साथ ही इस ऐप से ई-चालान तक का भुगतान किया जा सकेगा.


अब होगी आसानी

आरआई सीएल निगम ने बताया कि एम परिवहन ऐप को लगातार अपडेट किया जा रहा है. विभाग की सभी सुविधाएं पहले से ही ऑनलाइन हैं. अब मोबाइल में इस सिंगल ऐप से परिवहन विभाग के सारे काम हो सकेंगे.

ऑनलाइन आवेदन हुआ आसान

अभी तक लाइसेंस या आरसी संबंधित काम के लिए आवेदक को परिवहन विभाग की वेबसाइट से आवेदन करना पड़ता था. इसके लिए आवेदक को ई-सुविधा केंद्र या साइबर कैफे पर जाकर फार्म भरकर करके प्रिंट आउट लेना पड़ता था. मगर अब ऐप में ही लाइसेंस से लेकर आरसी के आवेदन की सुविधा जोड़ दी गई है. आवेदक अब ऐप के माध्यम से अपने विकल्प का चयन कर आवेदन कर सकता है.

ई-चालान का भुगतान

इस ऐप में एक अन्य फीचर को भी अपडेट किया गया है. जिसमें ई- चालान की जानकारी से लेकर भुगतान तक किया जा सकेगा. आवेदक अपने ई-चालान का नंबर ऐप पर डालकर कार्ड या ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से चालान जमा करा सकेगा. इस ऐप की वजह से अब किसी को भी चालान भुगतने के लिए ट्रैफिक पुलिस कार्यालय की कतार में नहीं लगना पडे़गा.

एजेंट्स से मिलेगा छुटकारा

एम ऐप के अपडेट होने से आवेदकों को आरटीओ कार्यालय के एजेंट से छुटकारा मिल जाएगा. इस ऐप पर सभी आवेदनों की निर्धारित फीस ली जाएगी. आवेदन के लिए किसी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क आवेदक को नही देना पड़ेगा. इससे दलालों या एजेंट्स को दी जाने वाली अनावश्यक फीस आवेदकों की बच जाएगी. साथ ही साथ इस प्रक्रिया के कारण आवेदकों को बार-बार कार्यालय के चक्कर नही लगाने पड़ेंगे.

इन सुविधाओं का मिलेगा लाभ

लार्निग या परमानेंट लाइसेंस का आवेदन.

गाड़ी के टेंपरेरी या परमानेंट रजिस्ट्रेशन का आवेदन.


डुप्लीकेट आरसी और डीएल के लिए आवेदन.

लाइसेंस रिन्यूल के लिए आवेदन.