चेन्नई (आईएएनएस)। तमिलनाडु से लेकर केंद्र तक की राजनीति में मुत्तुवेल करुणानिधि एक बड़ा नाम माना जाता था। करुणानिधि ने कल मंगलवार शाम कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली। द्रमुक प्रमुख करुणानिधि पांच बार मुख्यमंत्री रहे हैं। उनके निधन की खबर सुनते ही समर्थकों में शोक की लहर दौड़ गर्इ। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने उनके निधन पर दुख जताया है।

आज होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार
मुत्तुवेल करुणानिधि का अंतिम संस्कार आज चेन्नई में होगा। राजनेता का शरीर राष्ट्रीय ध्वज से ढका हुआ है।रिश्तेदारों व अपनों के अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर राजाजी हाल में रखा गया है। राजाजी हाल में अंदर से बाहर तक हजारों की संख्या में भीड़ मौजूद है। इस दौरान तमिलनाडु के गवर्नर बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री के पलानिसवामी और उपमुख्यमंत्री ओ पनेरसेल्वम ने आज द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि को अपना अंतिम सम्मान दिया।

पीएम व रक्षामंत्री भी श्रद्धांजलि देने जाएंगे
खबरों की मानें तो आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आैर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण भी उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने जाएंगे। भारत सरकार पूरे देश में एक दिवसीय राज्य शोक मनाने का एेलान किया है। गृह मंत्रालय के बयान में कहा गया है इस दिन को आधिकारिक मनोरंजन नहीं होगा। मुत्तुवेल करुणानिधि अपने पीछे दो पत्नियां, छह पुत्र-पुत्रियां छोड़ गए हैं। द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन उनके बेटे हैं। उनकी बेटी कनीमोरी राज्यसभा की सदस्य हैं।

आधी रात को भर्ती हुए डीएमके अध्यक्ष एम करुणानिधि, अस्पताल में शुभचिंतकों की भीड़ उमड़ी

करुणानिधि का इतना बड़ा कुनबा भी नहीं रोक पाया जयललिता की जीत!

National News inextlive from India News Desk