भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के हिंदुकुश का इलाका
दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए। अब तक की जानकारी के मुताबिक भूकंप झटके काफी देर तक लगातार भारत के राजस्थान, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और पंजाब में महसूस किए गए। खबर के मुताबिक भूकंप के कारण मेट्रो की सेवा भी कुछ देर के लिए स्थगत रही। भूकंप की तीव्रता 7.7 मापी गई और भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के हिंदुकुश का इलाका था। अब तक की जानकारी के मुताबिक भूकंप से किसी नुकसान की नहीं हुआ है।
7.5 तीव्रता के भूकंप से हिला पूरा उत्‍तर भारत
भूकंप के झटकों से दहला उत्तराखंड
अफगानिस्तान में आए भूकंप के जबरदस्त झटकों से उत्तराखंड भी दहल गया। प्रदेश में बदरी-केदार और गंगोत्री-यमुनोत्री समेत कहीं से किसी प्रकार के नुकसान की सूचना नहीं है। हालांकि चार धाम में इसका असर मामूली रहा। देहरादून, हरिद्वार और कुमाऊं के कई शहरों में लगातार दो झटकों से दहशत फैल गई और लोग घरों व दफ्तरों से बाहर निकल आए। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सभी मुख्यसचिव राकेश शर्मा को निर्देश दिए कि सभी जिलाधिकारियों से रिपोर्ट इस बारे में रिपोर्ट लें।

इसे भी पढ़ें : रोज आते हैं 9,000 भूकंप

पहला झटका 2.43 और दूसरा 2.44 बजे
सोमवार को राजधानी देहरादून सहित प्रदेश के पर्वतीय और मैदानी क्षेत्र भूकंप के झटकों से दहल गए। राज्य आपदा प्रबंधन एंव न्यनीकरण केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार पहला झटका 2.43 और दूसरा 2.44 बजे महसूस किया गया। केंद्र के अनुसार उत्तराखंड के सभी जिलों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। गौरतलब है कि वर्ष 1991 में उत्तरकाशी और 1999 में चमोली जिले में आए विनाशकारी भूकंप में सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी।
inextlive from India News Desk

National News inextlive from India News Desk