ष्ट॥न्ढ्ढक्चन्स्न्: पश्चिम सिंहभूम के मंझारी प्रखंड के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय से 10वीं कक्षा की छात्राओं के बिना सूचना के स्कूल से भाग गईं. जानकारी के मुताबिक बुधवार को 10वीं व 11वीं की छात्राओं में किसी विषय को लेकर आपस में झगड़ा हो गया था. इससे नाराज होकर 10वीं कक्षा में अध्ययनरत करीब 50-60 छात्राएं सुबह-सुबह विद्यालय से चुपचाप निकलकर पास के गांवों में चली गईं. इसकी जानकारी मिलने पर स्कूल प्रबंधन में हड़कंप मच गया. इसके बाद आनन-फानन में एक टीम को च्च्चियों को ढूंढने के लिए भेज दिया गया. टीम मेंबर्स ने काफी समझा-बुझाकर च्च्चियों को स्कूल ले आई, लेकिन चार छात्राओं ने स्कूल लौटने से मना कर दिया. कस्तूरबा विद्यालय की वार्डेन सुलोचना कुमारी ने बताया कि छात्राओं में किसी बात को लेकर थोड़ा मतभेद हो गया था. इस वजह से वे स्कूल से बाहर निकल गईं थी मगर गलती का एहसास होने पर सुबह सात बजे ही सभी छात्राएं विद्यालय लौट आई हैं.

शिक्षा विभाग को जानकारी नहीं

शिक्षा विभाग व स्थानीय पुलिस को इस संबंध में विद्यालय प्रबंधन की ओर से कोई जानकारी नहीं दी गई है. वार्डेन के अनुसार छात्राएं सकुशल लौट आई, इस वजह से मामले को ज्यादा तूल नहीं दिया जाए, वहीं बेहतर होगा. यहां बता दें कि पिछले दिनों मझगांव कस्तूरबा से भी 50 से ज्यादा छात्राएं अनुबंधित शिक्षकों को हटाने के विरोध में विद्यालय से बाहर निकल गईं थी. बाद में पुलिस व विद्यालय प्रबंधन मिलकर छात्राओं को समझाकर पुन: स्कूल ले आया था.

11वीं की छात्राओं के साथ किसी बात को लेकर 10वीं की छात्राओं का मतभेद हो गया था. इस वजह से वे स्कूल से बाहर निकल गईं थी मगर गलती का एहसास होने पर सुबह सात बजे ही सभी छात्राएं स्कूल लौट आईं.

-सुलोचना कुमारी, वार्डेन, कस्तूरबा विद्यालय, मंझारी