-युवती से किया प्रेम विवाह, उसकी भाभी से बनाए संबंध

-चिलुआताल एरिया के नकहा के अचेत हाल मिला शैलेश

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR:  गुलरिहा एरिया की एक युवती संग प्रेम विवाह करने वाले युवक ने साले की पत्नी संग जहर खाकर जान दे दी. प्रेमिका से मिलने-जुलने के दौरान युवक की जान-पहचान उसकी भाभी से हो गई. युवती से प्रेम विवाह करने के बाद बावजूद युवक माशूका की भाभी के प्रेम में पड़ रहा. 10 दिन पूर्व युवक अपने साले की बीवी संग घर से फरार हो गया था. पुलिस दोनों के बरामद कर पाती. इसके पहले युवक ने प्रेमिका की भाभी संग जहर खाकर जान दे दी. शुक्रवार सुबह दोनों चिलुआताल एरिया के नकहा में अचेत हाल मिले. उनको मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया जहां मौत हो गई.

युवती संग विवाह, साले की पत्नी से प्रेम
गुलरिहा के परसिया निवासी शैलेश जायसवाल इसी क्षेत्र की एक युवती संग प्रेम करता था. चार साल पूर्व वह अपनी प्रेमिका को भगा ले गया. बाद में दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली. पहले तो परिजनों ने उनके रिश्ते का विरोध जताया. बाद में लोगों ने इसे मंजूरी दे दी. शटरिंग का काम करने वाले शैलेश का अपने ससुराल में आना शुरू हो गया. इस बीच शैलेश का संबंध उसके साले की पत्‍‌नी संग हो गया. दोनों के बीच प्रेम परवान चढ़ने पर परिवार के लोगों को जानकारी हो गई. वह अपनी पत्नी संग साले की बीवी को भी रखना चाहता था. लेकिन पत्नी के विरोध करने पर उसने घर से भागने का फैसला कर लिया.

घर से भाग जहर खाकर गवां दी जान
परिवार के लोगों का विरोध होने पर शैलेश ने साले की पत्नी संग भाग निकला. करीब 10 दिन पूर्व उनके घर से भागने पर साले ने गुलरिहा पुलिस को सूचना दी. पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल में जुटी थी. इस बीच शुक्रवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे शैलेश और उसके साले की पत्‍‌नी अचेत हाल में मिले. जहर खाने से दोनों की हालत नाजुक हो गई थी. पब्लिक की सूचना पर पुलिस उनको मेडिकल कॉलेज ले गई. लेकिन दोनों की जान नहीं बच सकी. पुलिस की जांच में सामने आया कि गुरुवार रात शैलेश अपने घर गया था. उसने पत्‍‌नी से कहा था कि अब कभी मुलाकात नहीं होगी. वह सरहज संग कहीं बाहर जा रहा है. शुक्रवार सुबह भी शैलेश ने पत्‍‌नी को फोन करके कहा कि वह लोग काफी दूर जा रहे हैं. उसकी पत्‍‌नी को लगा कि वह कुछ दिनों के बाद लौट आएगा. लेकिन शुक्रवार को उसके मौत की सूचना घर पहुंची. वह तीन बच्चों का पिता था. उसकी हरकत से दो लोगों की जिंदगी बरबाद हो गई. बच्चों का फ्यूचर अधर में पड़ गया.