PATNA। शहर फुलवारी शरीफ स्थित डेयरी फार्म में सूरज और शेखर दैनिक मजदूरी का काम करते थे. दोनों के बीच गहरी दोस्ती थी. दोनों एक दूसरे पर जान न्योछावर करते थे लेकिन दोनों के बीच एक दिन पैसे के लेन देन की ऐसी दरार बड़ी कि दोनों एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए.

जानकारी के अनुसार सूरज ने कुछ रुपए उधार के रूप में शेखर को दिया था. जिसे शेखर वापस नहीं कर रहा था. बुधवार की सुबह शेखर ने सूरज को उसके पैसे देने के लिए अपने घर पर बुलाया था. सूरज उसके घर पर पहुंचा. पहले दोनों दोस्तों के बीच कुछ देर तक बहस हुई. इसके बाद शेखर अचानक तैश में आ गया. इस दौरान उसने घर के अंदर रखे पिस्टल को निकाल लिया और सूरज के सीने से सटाकर कई राउंड गोली चलाई. गोली लगते ही सूरज लहूलुहान होकर गिर पड़ा. इससे पहले लोग कुछ समझ पाते सूरज ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. घटना को अंजाम देने के तत्काल बाद शेखर मौके से फरार हो गया.

लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस

बुधवार की सुबह रको हुई गोली बारी की घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई. वारदात फुलवारी शरीफ थाने के रानीपुर रोड स्थित कांग्रेस मैदान के पास हुई. आस पास के लोगों की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है. पुलिस ने आरोपी के परिजनों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. इसके साथ ही पुलिस आरोपी की तलाश में छापेमारी करने में भी जुटी है.

एक ही डेयरी में दोनों करते थे काम

फुलवारी शरीफ स्थित डेयरी फार्म के लोगों का कहना है कि सूरज चौहान (24 वर्ष) मेहनती और ईमानदार था. शेखर पासवान (25 वर्ष) भी उसी डेयरी फार्म में कार्यरत था. लोगों की मानें तो दोनों के बीच गहरी दोस्ती थी. इससे पहले कभी कोई दोनों के बीच विवाद नहीं हुआ. लेकिन बाद में पैसो को लेकर उनके बीच दरार पैदा हो गई. फुलवारी शरीफ डीएसपी रामाकांत प्रसाद ने बताया कि पैसे की लेन-देन विवाद में सूरज की हत्या की गई है. इसके अलावा अन्य एंगल पर भी जानकारी ली जा रही है.