LUCKNOW: सरोजनीनगर के हनुमानपुरी कॉलोनी में मंगलवार देर रात पति ने अवैध संबंधों के शक में बच्चों के सामने पत्नी की हत्या कर दी. हत्या के बाद खून से सने कपड़ों में ही वह पुलिस के पास पहुंच गया. मासूम बच्चे मां को बचाने की विनीत करते रहे और शक्की पति उसे ईट से पीटता रहा.

14 साल पहले की लव मैरिज

मूलरूप से संतकबीर नगर के महोली सिरपुरा निवासी कृष्ण मुरारी ने 14 वर्ष पूर्व सुमन से प्रेम विवाह किया था. एएसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र के मुताबिक मंगलवार देर रात पति-पत्नी में विवाद हुआ, इसके बाद आरोपित ने पहले ईट से फिर सिल के बट्टे से सुमन के सिर पर वार कर उसकी हत्या कर दी. आरोपी ने खुद ही गश्त कर रहे पुलिसकर्मियों को रोककर मामले की जानकारी दी और सरेंडर किया.

पत्नी के चरित्र पर करता था शक

कृष्ण मुरारी कुछ वर्ष पूर्व पत्नी व तीन बच्चों के साथ राजधानी नौकरी के सिलसिले में आया था. यहां वह अमौसी रोड स्थित हनुमानपुरी कॉलोनी में मोर मुकुट सिंह के मकान में किराए पर रहकर पेटिंग का काम करता था. पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया है कि अवैध संबंधों के शक में उसने पत्नी की हत्या की है.

मंगलवार को लौटी थी मायके से

पुलिस के मुताबिक कुछ दिन पूर्व सुमन नाराज होकर मायके चली गई थी. मंगलवार को वह वापस लौटी तो कृष्ण मुरारी घर पर था. थोड़ी देर ठहरने के बाद सुमन काम की बात कह कर वहां से चली गई.

रात में देर से लौटी तो हुआ नाराज

आरोपी का कहना है कि सुमन देर रात घर लौटी. जब उससे कारण पूछा तो वह टालमटोल करने लगी. इस पर हाथापाई होने लगी और वे घर के पास खाली पड़े एक प्लाट में पहुंचे और वहां कृष्ण मुरारी ने सुमन के सिर पर ईट से वार कर दिया. इसके बाद आरोपित घर से सिल का बट्टा उठाकर लाया और ताबड़तोड़ वार कर सुमन को मौत के घाट उतार दिया. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसकी पत्नी का एक युवक से चार साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था.

पुलिसकर्मियों को रोककर दी सूचना

कृष्णा मुरारी का कहना है कि पत्नी की हत्या के बाद वह खून से सने कपड़ों में ही थाने की ओर चला. हाइडिल के पास उसे दो पुलिसकर्मी दिखे, जिन्हें रोककर उसने वारदात की जानकारी दी. इसके बाद पुलिस टीम ने मौके पर जाकर छानबीन की और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

बच्चों के सामने ही कर दी हत्या

दंपती में जब मारपीट हो रही थी तो शोर सुनकर सुमन का बेटा विशाल (12) व पुन्नू (8) जाग गए. दोनों बेटे पिता से से सुमन की पिटाई नहीं करने की विनती करते रहे, लेकिन उसने एक न सुनी और पत्नी को मौत के घाट उतार दिया. सुमन की तीन साल की बेटी शीतल भी है.