- कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए आगमन संस्था की ओर से धर्म संसद का हुआ आयोजन

varanasi@inext.co.in

VARANASI

कोख में बेटियों को कत्ल कर दिये जाने के खिलाफ विभिन्न धर्मो के लोग एक साथ एक मंच पर जुटे और काशी में भ्रूण हत्या रोकने की मांग की. अवसर था सामजिक संस्था आगमन की ओर से हुए बेटी धर्म संसद का. अध्यक्षता कर रहे अन्नपूर्णा मंदिर के महंत रामेश्वर पुरी ने कहा कि पेट में पल रही बेटी की हत्या जीव हत्या है और इसका कोई प्रायश्चित नहीं है. श्री राम मंदिर के महंत स्वामी राम कमल वेदांती, श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के मुख्य अर्चक श्रीकांत मिश्रा, शिया जामा मस्जिद के प्रवक्तासैय्यद फरमान हैदर, सिक्ख धर्मगुरु धर्मवीर सिंह व फादर आनंद ने एक स्वर में कन्या भू्रण हत्या की निंदा की और इसे एक महापाप बताया. विषय स्थापना संस्थापक सचिव डॉ संतोष ओझा ने किया. संचालन डॉ सरोज पाण्डेय ने व धन्यवाद राकेश मिश्रा किया.