क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : रांची में चल रहे ज्यादातर शेल्टर होम ने जिला प्रशासन को अपनी प्रोफाइल सौंप दी है. जिन्होंने अबतक नहीं दिया है, उन्हें मंगलवार तक का अल्टीमेटम दिया गया है, वरना आगे की कार्रवाई की जाएगी. मालूम हो कि सीडब्ल्यूसी के गाइडलाइन व ना‌र्म्स को फॉलो नहीं किए जाने की सूचना मिलने के बाद डीसी ने सभी शेल्टर होम की जांच कराने के साथ उन्हें अपनी प्रोफाइल देने के निर्देश जारी किए थे.

मजिस्ट्रेट ने सौंपी थी रिपोर्ट

उपायुक्त महिमापत रे के आदेश पर शेल्टर होम की जांच करने के लिए मजिस्ट्रेट को प्रतिनियुक्त किया था. इन्होंने रांची जिले में संचालित 10 शेल्टर होम की गतिविधियों की जांच की थी. इन्होंने डीडीसी को जो जांच रिपोर्ट सौंपी है उसमें 10 शेल्टर होम में सीडब्ल्यूसी के नॉ‌र्म्स फॉलो नहीं किए जाने की बात सामने आई थी. ऐसे में इन सभी को सारे डॉक्यूमेंट्स उपलब्ध कराने को कहा गया था.

इन शेल्टर होम की हुई थी जांच

स्टेशन रोड के प्रेमाश्रय द जान फाउंडेशन, मिशनरीज ऑफ चैरिटी, ईस्ट जेल रोड, आदित जाति सेवा मंडल, निवारणपुर, बालाश्रयख् आईटीआई कैंपस, इटकी रोड, सहयोग विलेज हाउस, आर्यपुरी, आंचल शिशु आश्रम, बड़ा तालाब, नारी निकेतन अरसंडे, कांके, दीया सेवा संस्था, तेतर टोली रांची, समाधान बरियातू हाउसिंग कॉलोनी, आशा, सुशीला इंकलेव, बरियातू, करूण एनएमओ, बरियातू, महर्षि बाल्मिकी विकलांग एवं अनाथ कल्याण सेवा आश्रम भूसुर, लोक विकास बिंदू, डुमरदगा, मिशनरीज ऑफ चैरिटी न्यू गांधीनगर हिनू, मिशनरीज ऑफ चैरिटी निर्मल साहू भवन, न्यू गांधीनगर हिनू, ईडीआईएसएस, नियर क्रिकेट स्टेडियम, धुर्वा, महिला समाख्या सोसाइटी ट्रस्ट जगन्नाथपुर, भारतीय किसान संघ, बीजूपाड़ा.