- कमिश्नर ने कंपाउंडिंग के लिए अग्रिम धनराशि व नक्शा जमा करने के दिए निर्देश

- शादी के लिए बुक हुए बारात घरों को बीडीए नहीं करेगा कार्रवाई, बाद में होगा निर्णय

BAREILLY:

बारातघरों को जारी हुई नोटिस पर बारात घर संचालकों और बीडीए की मीटिंग मंडे को कमिश्नर डॉ. पीवी जगनमोहन ने बुलाई. कमिश्नर ने बीडीए और बिना नक्शा पास बारात घरों की नियमानुसार कंपाउंडिंग करने के निर्देश दिए. बारातघर संचालकों को आगामी 15 अप्रैल तक सशर्त कंपाउंडिंग के लिए नक्शा और अग्रिम राशि जमा करने का मौका मिला है.

कम समय, कैसे करें अरेंजमेंट

बारातघर स्वामियों से कमिश्नर ने नोटिस जारी होने के बाबत उनकी समस्या पूछी. जिस पर संचालकों ने बताया कि बीडीए ने 21 मार्च को नोटिस भेजा. जिसमें बगैर नक्शा पास बारातघर की कंपाउंडिंग के लिए पैसा जमा करने के लिए 5 दिन का समय दिया गया. बीडीए ने 2.5 लाख, 5 लाख, 7.5 लाख व 10 लाख रुपए के चार स्लैब में पैसा जमा करने को कहा था. कम समय में बड़ी रकम जमा करा पाना नामुमकिन है. वहीं, आगामी 14 अप्रैल से शादी के लिए बारातघर बुक हैं. ऐसे में अगर कार्रवाई की गई तो फेरे नहीं हो सकेंगे. साथ ही, आम जनता काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा.

7 अप्रैल तक पैमा करें जमा

बारातघर स्वामियों की बात सुनने के बाद कमिश्नर ने फिलहाल कुछ दिनों की राहत प्रदान की है. बारातघर संचालकों को आदेश दिए कि वह 7 अप्रैल तक कंपाउंडिंग के लिए बीडीए में स्लैब वार 50 हजार रुपए कम कर पैसा जमा करें. साथ ही, 15 अप्रैल तक हर हाल में कंपाउंडिंग का नक्शा बीडीए में जमा करेंगे. इसके अलावा मौके पर ही बारातघर स्वामियों द्वारा दिए जाने वाले एफिडेविट को भी संशोधित कराया. हिदायत दी कि आदेश का पालन न करने वाले बारातघर पर बीडीए नियमानुसार कार्रवाई करेगा. मीटिंग में बीडीए उपाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार, बैंक्वेट हाल अध्यक्ष गोपेश अग्रवाल समेत करीब 30 बारातघर संचालक मौजूद रहे.