अचानक बिगड़ गई थी हालत, दहेज के लिए प्रताडि़त करने का आरोप

पुलिस को दी गई जहर देकर मारने की तहरीर, पति हिरासत में

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: एसआरएन हॉस्पिटल कैंपस में फ्राइडे सुबह एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. मायके वालों का आरोप है कि उसको जहर देकर मारा गया. मायके वालों ने एसआरएन पुलिस चौकी पर दहेज के लिए प्रताडि़त करने व जहर देकर मारने की तहरीर दी है. पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है. पति को हिरासत में ले लिया गया है.

एसआरएन में ही रहती थी

सिविल लाइंस स्थित पत्रिका चौराहे के पास रहने वाली मोना देवी (32) की शादी एसआरएन की क्लास फोर्थ कर्मचारी चंपा के बेटे संजीव कुमार से आठ साल पहले हुई थी. संजीव बेरोजगार है. बुधवार को मोना के मायके में देवी जागरण था. वह उसमें शामिल होने के लिए गई थी. गुरुवार को वह ससुराल लौटी. देवर बच्चा का कहना है कि घर पर आने के बाद उनकी तबीयत बिगड़ गई थी. वह दवा खाकर सोने चली गई. अचानक तबीयत काफी खराब हो गई. उलटियां होने पर उनको एसआरएन हॉस्पिटल में ही एडमिट करवा दिया गया. शुक्रवार सुबह पांच बजे मोना की मौत हो गई. मौत के बाद खबर मायके वालों को दी गई. छोटा भाई दिनेश मौके पर पहुंचा. आरोप था कि उसकी बहन को दहेज व बच्चे के लिए प्रताडि़त किया जाता था. जब वह घर पहुंची तो उसको जहर देकर मार डाला गया. आरोप लगाया गया कि तबीयत खराब थी तो उनको खबर क्यों नहीं दी गई.

पुलिस ने बैठाया थाने

मायके वालों ने पुलिस को खबर दी. पुलिस ने बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजवा दिया. काफी देर तक पोस्टमार्टम दो डॉक्टरों से करवाने व वीडियोग्राफी करवाने को लेकर माथापच्ची होती रही. मायके वालों का आरोप था कि पति की मां हॉस्पिटल की ही कर्मचारी है. वह मामले को दबाने की कोशिश कर रही हैं. हालांकि तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने पति संजीव को हिरासत में ले लिया है. चौकी इंचार्ज एसआरएन सर्वेश सिंह ने बताया कि तहरीर मिल गई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.