lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : बसपा सुप्रीमो मायावती ने राजधर्म निभाने व देश हित में अपने आप को मोदी से ज्यादा फिट बताया है। मंगलवार को दिए अपने बयान में उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा में बेनामी संपत्ति वाले लोग अन्य दलों से अधिक है, बस उनका हिसाब कालीन के नीचे रहता है। उन्होंने भाजपा पर दलितों को गुमराह करने का आरोप भी लगाया और बसपा को 'बहनजी की संपत्ति पार्टी' कहने पर एतराज जताया। कहा कि मोदी सिर्फ कागजों में ही ईमानदार नजर आते हैं, ठीक ओबीसी के दावे की तरह।
आरएसएस ने मोदी का छोड़ा साथ: मायावती
बसपा को बदनाम करने की हर कोशिश कर रही

भाजपा पांच वर्ष से बसपा को बदनाम करने की हर कोशिश कर रही है। अपनी तुलना नरेंद्र मोदी से करते हुए कहा कि मैं यूपी की चार बार मुख्यमंत्री रही हूं, मेरी शानदार विरासत रही है। मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब मैं भी मुख्यमंत्री थी। उनका शासनकाल एक काला धब्बा है। बसपा की सरकार में यूपी दंगा व अराजकतामुक्त रहा है जबकि मोदी का प्रधानमंत्री के रूप में भी कार्यकाल नफरत, घृणा, अराजकता से भरा रहा है।