-ईएसआईसी सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में अब आम लोगों को भी मिलेगा इलाज

-10 रूपए की ओपीडी कार्ड पर मिलेगी चिकित्सकीय सलाह

-सरकारी दरों पर होंगे ऑपरेशन

अगर आप सरकारी अस्पतालों की भीड़ से तंग आ चुके है और प्राइवेट हॉस्पिटल की फीस को अफोर्ड नहीं कर सकते तो यह खबर आपको राहत देने वाली है। दरअसल राज्य कर्मचारियों के लिए बने राज्य कर्मचारी बीमा निगम (ईएसआईसी) सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का दरबार अब आम लोगों के लिए भी खोल दिया गया है। अब यहां सिर्फ कर्मचारी ही नहीं आम लोग भी 10 रूपए का ओपीडी रजिस्ट्रेशन कराकर इलाज करा सकते है। फिलहाल अभी यहां लोगों को सिर्फ चिकित्सकीय सलाह ही दी जा रही है। जांच और दवा बाहर से ही खरीदनी पड़ेंगी। हालांकि आने वाले दिनों में बाहरी मरीजों को सरकारी दरों पर सभी सुविधाएं मिलने लगेंगी।

डीजी हेल्थ ने जारी किया आदेश

वैसे तो बनारस में कई हॉस्पिटल है, लेकिन लोवर व मीडिल क्लास को कम दाम में सुपर स्पेश्लिटी हॉस्पिटल जैसा इलाज कही नहीं मिलता। मगर अब ऐसा संभव हो चुका है। पांडेयपुर में बने इस हाई क्लास सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में आम लोगों का इलाज करने का आदेश खुद ईएसआईसी हॉस्पिटल डीजी हेल्थ राज कुमार जारी किया है। पिछले दिनों हॉस्पिटल के दौरे पर आए डीजी ने कहा था कि यह हॉस्पिटल अब पहले से काफी बड़ा और सुपर स्पेश्लिटी हॉस्पिटल बन चुका है। जबकि पेशेंट की संख्या कम है। लिहाजा इसमें आम लोगों को भी इंट्री दी जाए। जिससे उन्हे बेहतरीन चिकित्सकीय व्यवस्था के लिए भटकना न पड़े।

कम पैसे में प्राइवेट जैसा इलाज

अधिकारियों की माने तो डीजी के आदेश पर यहां यह व्यवस्था लागू कर दी गई है। फिलहाल अभी बाहरी पेशेंट को चिकित्सकीय सलाह ही दी जा रही है। अभी दवा बेचने का लाइसेंस न मिलने की वजह से पेशेंट को बाहर की दवा ही लिखी जा रही है। इसके साथ ही कुछ माइनर ऑपरेशन भी सरकारी पैकेज वाली रेट पर किए जा रहे है। इसके अलावा भी अन्य कई व्यवस्था लागू करने की प्लानिंग की गई है। प्राइवेट जैसी सुविधाओं से युक्त इस सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में आने वाले दिनों में बाहरी पेशेंट को दवा बेचने के साथ ही उन्हे एडमिट भी किया जाएगा। ये सब कुछ सरकार की तरफ से मामूली दरों पर होगा।

आयुष्मान भारत को भी एंट्री

केन्द्र सरकार के अधीन चल रहे इस हॉस्पिटल में सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को भी इलाज देने की प्लानिंग की गई है। अधिकारियों की माने तो इस योजना को लेकर भी शीर्ष स्तर पर बातचीत हो रही है। जल्द ही आयुष्मान लाभार्थियों को इलाज कराने का मौका मिलेगा।

ये मिलेगा फायदा

-माइनर से लेकर मेजर ऑपरेशन तक

-डालिसिस

-हार्ट के अलावा अन्य मेजर रोग का ट्रीटमेंट

-टीबी, कैंसर, किडनी ट्रांसप्लांट

-एमआरआई, सिटी स्कैन, डिजिटल एक्सरे

-हाई क्लास पैथ लैब

-हॉई क्लास ओटी फैसिलिटी

ये होंगे डॉक्टर्स

-स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स की टीम

-यूपी से बाहर से आ रहे डॉक्टर

-एक्सपर्ट पैरामेडिकल टीम

-एक्स्पर्ट स्टाफ नर्स की टीम

बाहरी मरीजों के लिए फिलहाल ओपीडी रजिस्ट्रेशन के आधार पर चिकित्सकीय सलाह दी जा रही है। लाइसेंस मिलने के बाद मरीजों को सरकारी दरों पर दवा देने के साथ एडमिट भी किया जाएगा।

मसीह प्रकाश मिंज, एमएस, ईएसआईसी हॉस्पिटल