lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : अमीनाबाद में बिना लाइसेंस दवाओं का अवैध कारोबार हो रहा था। कारोबारी केंद्र सरकार की सीजीएचएस सेंट्रल गवर्नमेंट हेल्थ स्कीम के तहत खुले हॉस्पिटल में दवाओं की आपूर्ति कर रहा था। एफएसडीए की दवा इकाई ने थोक मेडिकल स्टोर पर छापा मारा तो इसका खुलासा हुआ। अधिकारियों ने आठ लाख रुपये की दवाएं सीज कर कानूनी कार्रवाई की संस्तुति की है।

नहीं दिखा पाए लाइसेंस
मंगलवार को एफएसडीए के सहायक आयुक्त रमा शंकर, ड्रग इंस्पेक्टर माधुरी सिंह के साथ सहारा मेडिकल स्टोर में छापेमारी की। कर्मचारियों से अधिकारियों ने दवाओं की बेच-खरीद संबंधी दस्तावेज और लाइसेंस दिखाने को कहा। इस पर कर्मचारियों ने बताया कि मेडिकल स्टोर के मालिक जाहिद खान मेरठ में रहते हैं। थोक दवा का लाइसेंस हैं। बुधवार को लाइसेंस दिखा सकते हैं। इसके बाद टीम ने मेडिकल स्टोर में ताला डलवाकर उसे सील कर दिया। सहायक आयुक्त रमाशंकर ने बताया कि बुधवार को पुलिस बल के साथ दोबारा सहारा मेडिकल स्टोर पहुंचे। कर्मचारियों को फोन कर बुलाया। लाइसेंस दिखाने को कहा। इस पर खुर्शीद समेत अन्य ने लाइसेंस दिखाने में असमर्थता जाहिर की।

नहीं दिखा सके दस्तावेज
रमा शंकर ने बताया कि आठ लाख की दवाओं को सीज किया गया। सीजीएचएस हॉस्पिटल में किस बेस पर स्टोर से दवाओं की आपूर्ति हो रही थी इसकी जांच होगी। अमीनाबाद में विनोद फार्मासियुटिकल्स में भी छापा मारा गया। स्टोर संचालक दवाओं की बेंच खरीद से जुड़े दस्तावेज नहीं दिखा सके, लिहाजा पांच लाख रुपये की दवाओं की बिक्री पर पाबंदी लगा दी गई है।

Crime News inextlive from Crime News Desk