बारात घर मालिकों के साथ अपर नगर आयुक्त ने की बैठक

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: नगर निगम में सोमवार को बारात घर मालिकों की मीटिंग की अध्यक्षता अपर नगर आयुक्त ऋतु सुहास ने की. बैठक में बारात घर मालिकों को ईको मशीन लगाकर कचरे से कम्पोस्ट बनाने का सुझाव दिया गया. बारात घर मालिकों ने हरी-भरी द्वारा कचरा न लिए जाने की शिकायत की.

हरी-भरी का सहयोग नहीं

लाउदर रोड स्थित लक्ष्मी नारायण वाटिका के प्रतिनिधि ऋषि अग्रवाल ने बताया कि प्रतिष्ठान में एक बॉयो डाइजेस्टर मशीन लगी है. इसकी मदद से कचरे को कम्पोस्ट के रूप में बदला जाता है. प्लास्टिक के बोतलों का क्या होता है के सवाल पर सभी ने बताया कि कबाड़ वालों को दे दिया जाता है. चौधरी गार्डेन के प्रतिनिधि ने बताया कि हरी-भरी की व्यवस्था बहुत खराब है. अनुबंध के बाद भी हरी-भरी समय से कचरा नहीं लेता है.

उत्पादक ही करें निस्तारण

पर्यावरण अभियंता उत्तम कुमार ने बताया कि वर्तमान में लागू ठोस अपशिष्ट प्रबंधन नियम 2016 के तहत कूड़ा निस्तारण की जिम्मेदारी उत्पादक प्रतिष्ठान की है. कूड़े को रिसाइकिल करें या फिर कम्पोस्ट बनाएं. बैठक में कुंदन गेस्ट हाउस के मालिक अशोक दुग्गल, हीरा वाटिका से लव वर्मा, शगुन पैलेस से सैय्यद आदिल, वीबी गुप्ता समेत 60 से अधिक बारात घर स्वामी मौजूद रहे.