शिक्षा की अलख जगाने वाले चौधरी नौनिहाल सिंह की ढाई सौ वर्ष पुरानी कोठी देखने पहुंचे गवर्नर राम नाईक

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: देशभर में शिक्षा की अलख जगाने वाले प्रदेश के पूर्व गृह व शिक्षा मंत्री चौधरी नौनिहाल की खुशहाल पर्वत स्थित कोठी को देखने के लिए शनिवार को प्रदेश के गवर्नर राम नाईक पहुंचे. चौधरी परिवार के सदस्य व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के साथ पहुंचे गवर्नर श्री नाईक ने कोठी में नक्काशी, बेजोड़ कलाकृतियां व उसकी दिव्यता देख गदगद हो गए. उन्होंने कहा कि प्रयाग में कई बार आया और चौधरी साहब के बारे में बहुत सुना था. शिक्षा के क्षेत्र में उन्होंने उल्लेखनीय कार्य किए हैं. इसलिए कोठी में आना मेरे लिए सौभाग्य की बात है.

परिजनों के साथ खूब हुई बातें

गवर्नर श्री नाईक स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह के साथ कोठी पहुंचे तो रोहित नाथ सिंह ने उन्हें बताया कि यह कोठी ढाई सौ वर्ष पुरानी है. इस पर गवर्नर ने कोठी देखने की इच्छा जताई. परिवार के सदस्यों पूर्व मेयर जितेन्द्रनाथ सिंह, मामा सुनील शास्त्री व छोटे चाचा चौधरी अमरनाथ सिंह के साथ श्री नाईक ने कोठी में नक्काशी, कलाकृतियों व उसकी साज सज्जा को को ध्यान से देखा और परिजनों संग खुशियां व्यक्त की. खास बात रही कि चौधरी अमरनाथ सिंह से मिलने पर गवर्नर श्री नाईक भावुक हो उठे और उनके स्वास्थ्य का हालचाल लिया.

गवर्नर को किया सम्मानित, खिंचाई तस्वीर

कोठी का भ्रमण करने के बाद गवर्नर श्री नाईक के साथ कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, नंद गोपाल गुप्ता नंदी, आशुतोष टंडन व डॉ. रीता बहुगुणा जोशी सहित विधायक नीलम करवरिया, मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी, विधायक जमुना प्रसाद सरोज, प्रवीण पटेल, जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा सिंह आदि विशिष्ट जनों के साथ भोजन किया. उसके बाद परिवार के सदस्यों ने गवर्नर को शॉल ओढ़ाकर व सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया. साथ ही परिजनों संग श्री नाईक ने तस्वीर भी खिंचाई.

अधिकारी भी रहे मौजूद

गवर्नर श्री नाईक के कोठी पहुंचने पर जिला प्रशासन के आला अधिकारी भी वहां पर मौजूद रहे. प्रमुख रूप से कमिश्नर डॉ. आशीष कुमार गोयल, डीएम सुहास एल वाई, कुंभ मेलाधिकारी विजय किरण आनंद, एडीए उपाध्यक्ष बीसी गोस्वामी शामिल रहे.