जी-7 के संयुक्त बयान से ट्रंप  के पीछे हटने पर भड़का जर्मनी
बर्लिन (आइएएनएस)। जर्मनी ने जी-7 के शिखर सम्मेलन के दौरान संयुक्त बयान से पीछे हटने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की है। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने सम्मेलन से लौटने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि ट्रंप का बयान पर दस्तखत से इनकार करना निराशाजनक था।

ट्रंप ने ट्वीट के जरिये किया किनारा
हमने प्रमुख मुद्दों पर गंभीरता पूर्वक बातचीत की थी। हम एक समझौते तक पहुंच भी गए थे। और उसके बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने जिस तरह इससे एक ट्वीट के जरिये किनारा किया, उसने हमारे प्रयासों पर पानी फेर दिया। मर्केल ने जोर देकर कहा कि यूरोप अपने भाग्य का फैसला खुद करेगा। अमेरिका के साथ व्यापार गतिरोध पर उन्होंने कहा कि पूरे यूरोप को एकजुट होकर इसे और बढ़ने से रोकने का उपाय करना होगा। मौजूदा परिस्थितियों के बावजूद अमेरिका के साथ हमारे संबंध महत्वपूर्ण हैं।

जी-7 में रूस की वापसी भविष्य की बात

भले ही उसके समर्थन को लेकर हम पूरी तरह आश्वस्त नहीं हो सकते। जी-7 में रूस की संभावित वापसी के बारे में पूछे जाने पर जर्मन चांसलर ने कहा कि यह भविष्य का सवाल है। लेकिन, यदि ऐसा होता है, तो उसके लिए स्थितियां अनुकूल होनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि हम निरस्त्रीकरण और यूक्रेन संकट को लेकर अन्य मंचों पर रूस के साथ वार्ता करते रहेंगे।

यूक्रेन: जी-7 ने डाला दबाव, रूस बेपरवाह

क्राईमिया: 'रूस में शामिल' होने के पक्ष में मतदान

International News inextlive from World News Desk