मौसम विभाग ने चेताया  
मौसम विभाग की ऐसी चेतावनी को सुनकर कृषि मंत्रालय को किसी लाभकारी आकस्मिक योजना के साथ तैयार रहने के निर्देश दे दिए गए हैं। अभी बात करें इस महीने की तो कई राज्‍यों और अन्‍य जगहों पर इस महीने काफी अच्‍छा मानसून रहा। बेहतरीन बारिश के साथ अभी तक की फसलों को खूब फायदा हुआ है। भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक लक्ष्मण सिंह राठौर जानकारी देते हैं कि आने वाली जुलाई व अगस्त में क्रमश: आठ व दस फीसदी कम बारिश की संभावना है।

किसानों को देना होगा ध्‍यान
इसके आगे उन्होंने बताया कि इस जून में भी काफी अच्‍छी बारिश हुई है। किसानों के हिसाब से ये मौसम उनके लिए अच्‍छा है। यह मौसम बुआई का होता है। इसके बावजूद अभी उन्‍हें बहुत ज्‍यादा खुश नहीं होना चाहिए। बल्कि आगे आने वाले दिनों के लिए किसी आकस्मिक योजना को तैयार करना चाहिए। इसका कारण बताते हुए लक्ष्‍मण सिंह ने कहा कि जुलाई और अगस्‍त में अब बारिश सामान्‍य से भी कम होगी। ऐसे में सिंचाई को लेकर फ‍िर से मुश्किल आ जाएगी।  

निजी मौसम भविष्‍यवाणी केंद्र ने ऐसा बताया
उन्‍होंने बताया कि ये बात सही है कि अभी तक मानसून की अच्‍छी बारिश से जलाशय वगैरह ठीक-ठाक भर गए हैं। इसके बावजूद ध्‍यान देने की ज्‍यादा जरूरत है। वहीं दूसरी ओर एक अन्‍य निजी मौसम भविष्‍यवाणी एजेंसी ने आंकड़ों में बताया कि जुलाई में सामान्य से ज्‍यादा 104 फीसदी, अगस्त में 99 फीसदी और सितंबर में 96 फीसदी सामान्य बारिश की संभावना है।

Hindi News from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk