- अभी तक नहीं तैयार हुई डीपीआर

- कानपुर मेट्रो के लिए बजट आगरा को नहीं

आगरा. शहर में मेट्रो परियोजना के लिए अभी तक शासन स्तर से फूटी कौड़ी भी नहीं मिली है. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पेश किए बजट में भी मेट्रो के लिए कोई बजट स्वीकृत नहीं किया है. इस स्थिति में मेट्रो परियोजना का कहीं सपना सपना ही तो नहीं रह जाएगा.

शासन स्तर से नहीं मिला कुछ भी

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ये वादा किया था कि आगरा और कानपुर में एक साथ मेट्रो का कार्य शुरू होगा. बजट में मुख्यमंत्री ने कानपुर मेट्रो के लिए तो बजट स्वीकृत कर दिया, लेकिन आगरा मेट्रो के लिए नहीं. कमिश्नर प्रदीप भटनागर के अनुसार अभी तक इस परियोजना के लिए शासन स्तर से एक फूटी कौड़ी भी नहीं मिली है, तो इस परियोजना का समय से कैसे पूरा होना संभव है.

तीन करोड़ दिए एडीए

राइट्स से डीपीआर तैयार कराए जाने के लिए एडीए ने उसे तीन करोड़ रुपये दिए हैं. अभी तक मेट्रो के लिए जो भी खर्च हुआ है, वह खर्चा केवल एडीए ने ही बहन किया है.

डीपीआर नहीं हुई फाइनल

हालांकि राइट्स अभी तक डीपीआर फाइनल नहीं कर सकी है. संभावना यह है कि इसी सप्ताह डीपीआर फाइनल हो जाएगी. इसके बाद शासन स्तर से कुछ उम्मीद की जा सकती है.

इस कार्यकाल में शुरू हो पाएगा काम

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के इस कार्यकाल में मेट्रो का काम शुरू हो पाएगा, इसको लेकर तरह तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. अभी तक डीपीआर फाइनल नहीं हुई और न ही एडीए के पास इतना बजट है कि वह खुद के बल पर मेट्रो का कार्य शुरू करा सके. वहीं हाल में पेश किए गए बजट में मेट्रो के लिए कोई बजट स्वीकृत किया गया है.